Stress affects hair : तनाव कैसे आपके बालों को प्रभावित करता है

Read in English
Stress and hair

Hair problems: तनाव की वजह से बालों से संबंधित समस्याएं होने लगती हैं।

व्यक्ति को तनाव होने के पीछे कई कारण हो सकते हैं। कुछ लोगों को काम का तो कुछ को करियर की या कई लोगों को घर में चल रही समस्याओं की वजह से तनाव हो जाता है। किसी भी व्यक्ति को तनाव होने के पीछे कई कारण हो सकते हैं। यह कारण एक-दूसरे से अलग होते हैं। लोगों को लगता है कि तनाव व्यक्ति को केवल मानसिक रुप से प्रभावित करता है मगर ऐसा नहीं है यह आपको शारीरिक रुप से भी प्रभावित करता है। तनाव का असर आपकी त्वचा और बालों पर भी देखने को मिलता है। बालों के गिरने, झड़ने से लेकर सफेद होने तक की समस्या के पीछे का कारण तनाव हो सकता है। कुछ संकेतों की मदद से पहचान सकते हैं कि तनाव आपके बालों को प्रभावित कर रहे हैं। तो आइए आपको उन संकेतों के बारे में जिससे पता चलता है कि तनाव आपके बालों को प्रभावित कर रहा है। [ये भी पढ़ें: आदतें जो आपको तनाव से दूर रखती हैं]

Stress affects hair: संकेत कि तनाव आपके बालों को प्रभावित कर रहा है

बालों का सफेद होना
बालों का पतला हो जाना
बेजान से दिखना
बाल झड़ना

बालों का सफेद होना:

hair related problems
Stress affects hair: तनाव की वजह से आपके बाल सफेद हो सकते हैं।

बालों के सफेद होने के पीछे का कारण जेनेटिक हो सकता है। तनाव की वजह से आपके बाल समय से पहले सफेद होने लगता हैं। [ये भी पढ़ें: बिना केमिकल की मदद से कैसे करें सफेद बालों को काला]

बालों का पतला हो जाना: तनाव से ग्रसित होने पर व्यक्ति स्वस्थ खाद्य पदार्थों का सेवन नहीं करता है साथ ही वह सही तरीके से भोजन भी नहीं करता है। जिसकी वजह से व्यक्ति को उचित मात्रा में पोषक तत्व भी नहीं मिल पाते हैं। पोषक तत्वों की कमी की बालों की ग्रोथ भी रुक जाती है जिसकी वजह से बाल पतले होने लगते हैं। [ये भी पढ़ें: पतले बालों के लिए अपनाएं ये घरेलू उपचार]

बेजान से दिखना: जब आप अत्यधिक तनाव से ग्रसित होते हैं तो इसका असर आपके शरीर पर दिखने लगता है। जिसे आपके बालों के माध्यम से देखा जा सकता है। तनाव में आपके बालों से पोषक तत्व छिन जाते हैं जिसकी वजह से यह बेजान और शुष्क से दिखने लगते हैं।

बाल झड़ना:

stress affects hair
stress problems: तनाव की वजह से बालों के झड़ने की समस्या होने लगती है।

तनाव की वजह से कोर्टिसोल हार्मोन रिलीज होता है जो हेयर फॉलिकल्स के आस-पास अपशिष्ट पदार्थों का उत्पादन करने लगते हैं। जिसकी वजह से आपके बाल शुष्क के साथ पतले भी हो जाते हैं और बाल झड़ने की समस्या शुरु हो जाती है।

[जरुर पढ़ें: Reduce stress: तनाव को कम करने के लिए करें तुलसी की चाय का सेवन]

तनाव आपको मानसिक रुप के साथ शारीरिक रुप से भी प्रभावित करता है। इसकी वजह से आपको बालों पर असर पड़ता है। इस आर्टिकल को इंग्लिश(English) में भी पढ़ें।

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "