तनाव कैसे आपके पाचन को प्रभावित करता है

Read in English
how stress affects your digestion

खाना अच्छी तरह से ना पच पाने की वजह से पाचन संबंधी समस्याएं होने लगती है। जिसकी वजह से पेट फूलना, जी मिचलाना और पेट में दर्द जैसी समस्याएं होने लगती हैं। इसके पीछे का कारण कुछ खाद्य पदार्थों के सेवन से होने वाली एलर्जी हो सकता है। पाचन संबंधी समस्याएं तनाव का भी एक कारण हो सकती हैं। तनाव सिर्फ आपके मानसिक स्वास्थ्य को ही नहीं बल्कि पाचन प्रक्रिया को भी प्रभावित करता है। अगर आप तनाव से ग्रसित है तो आपका शरीर इसे पाचन संबंधी समस्याओं के रुप में दिखाने लगती है। तो आइए आपको बताते हैं कि कैसे तनाव आपके पाचन को प्रभावित करता है। [ये भी पढ़ें: तनाव कैसे आपके दिमाग को प्रभावित करता है]

तनाव कैसे आपके पाचन को प्रभावित करता है: अगर तनाव के स्तर को नियंत्रित ना रखा जाए इसका नकारात्मक प्रभाव आपके पाचन तंत्र पर पड़ने लगता है। जब आपका नर्वस सिस्टम तनाव की वजह से सक्रिय हो जाता है तो पाचन बंद हो जाता है। इसके साथ ही तंत्रिका तंत्र रक्त प्रवाह को प्रभावित करता है जिसकी वजह से पाचन की मांसपेशियों में संकुचन होने लगता है जिसकी वजह से पाचन के लिए आवश्यक स्त्राव कम हो जाता है। तनाव की वजह से गैस्ट्रोइंटेस्टाइन सिस्टम में सूजन भी आ सकती है। तनाव की वजह से पेट में एसिड की मात्रा बढ़ जाती है जिसकी वजह से पाचन में दिक्कत आने लगती है। जब आप तनाव से ग्रसित होते हैं तो यह आपके पेट को प्रभावित करता है जिसकी वजह से जी मिचलाने लगता है। तनाव में कभी-कभी आपको दस्त या कब्ज की भी समस्या हो सकती है क्योंकि आपका तंत्रिका तंत्र आपके पाचन सिस्टम को कंट्रोल करता है।

तनाव में पाचन संबंधी समस्या से कैसे रोकथाम करें:

टॉक थेरेपी: अपने दोस्तों या प्रियजनों से बात करने पर तनाव को दूर करने में मदद मिलती है। यह थेरेपी तनाव को कम करने में मदद करती है। जब आपका तनाव ठीक हो जाता है तो पाचन संबंधी समस्याए अपने आप ठीक हो जाती हैं। [ये भी पढ़ें: तनाव को कम करने के लिए उपयोगी है शिरोधारा थेरेपी]

सही डाइट का सेवन करें: ऐसे खाद्य पदार्थ जिनकी वजह से पाचन में समस्या होने लगती है वह भी आपके तनाव का कारण हो सकते हैं। तनाव को कम करने के लिए ज्यादा और जंक फूड का सेवन ना करें। इसके लिए स्वस्थ डाइट का सेवन करें। आप ऐसे फूड्स का सेवन करें जो आसानी से पच जाएं।

रिलेक्स थेरेपी: जो लोग तनाव से ग्रसित होते हैं उन्हें योग, मेडिटेशन जैसी रिलेक्स थेरेपी करनी चाहिए। ऐसा करने से तनाव से आराम मिलता है। जो पाचन संबंधी समस्याओं को कम करने में मदद करता है। [ये भी पढ़ें: पारिवारिक तनाव को कैसे कम करें]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "