Happy Eid 2018: ईद उल फितर क्यों और कैसे मनाते हैं

Read in English
Happy Eid 2018: What Is Eid Ul-Fitr And How It Is Celebrated

Happy Eid 2018: ईद -उल-फितर खुशियों का त्योंहार है

Happy Eid 2018: ईद मुस्लिम समाज का एक बेहद महत्वपूर्ण त्योंहार होता है जो कि रमजान के पाक महीने में मनाया जाता है। ईद-उल-फितर का पावन पर्व लोगों के घरों में बहुत सारी खुशियां लेकर आता है। हर घर में इस दिन स्वादिष्ट खाना और सेवैयां बनती है। ईद के दिन लोग एक-दूसरे के घरों में जाकर बधाईयां, तोहफे और ईदी देते हैं। आइए जानते हैं कि ईद-उल-फितर का ये पावन पर्व क्यों मनाया जाता है और कैसे आप अपने और अपनों के लिए इस ईद को खास बना सकते हैं।  [ये भी पढ़ेंHappy Eid 2018: ईद उल-फ़ितर से जुड़ी महत्वपूर्ण बातें]

Happy Eid 2018: ईद उल फितर से जुड़ी जानकारियां

  • क्या है ईद-उल-फितर
  • रमजान से शुरु होता है
  • चांद पर निर्भर करती है ईद की तारीख
  • घरों में मिठाई बनती हैं
  • उपहारों का उत्सव

1. क्या है ईद-उल-फितर- ईद मुस्लिमों के लिए खुशियों का त्योंहार होता है। रमजान के महीने के अंत में ईद-उल-फितर मनाया जाता है। रमजान के पूरे महीनें मुस्लिम रोजा रखते हैं और कड़े नियमों का पालन करते हैं। रमजान महीने के आखिरी दिन से यह ईद-उल-फितर का पर्व शुरु हो जाता है जो कि 3 दिन तक चलता है। इस दौरान मुस्लिम समाज के लोग खुशियां मनाते हैं और ईद की मुबारकबाद देते हैं।

2. रमजान से शुरु होता है- रमजान के महीने से ही मुस्लिम समाज के लोग रोजा रखना शुरु कर देते हैं। रमजान के अंतिम दिन तक रोजा रखा जाता है। रमजान के आखिरी दिन चांद दिखने पर ईद मनाई जाती है।

3.चांद पर निर्भर करती है ईद की तारीख- रमजान के आखिरी दिनों में चांद के दिखने पर ईद मनाई जाती है। चांद के दिखते ही ईद-उल-फितर का जश्न शुरु हो जाता है। लोग एक-दूसरे के गले मिलकर मुबारकबाद देते हैं। यह हर किसी के लिए खुशी का दिन होता है जिस दिन लोग आपसी दुश्मनी भुलाकर गले मिलते हैं।

4. घरों में मिठाई बनती हैं- ईद-उल-फितर के पर्व पर लोगों के घर में स्वादिष्ट खाना, मिठाईयां, नॉन-वेज बनता है। साथ ही बेहद लोकप्रिय और स्वादिष्ट सेवैंया भी इस त्योंहार पर बनाई जाती है।

5.उपहारों का उत्सव- ईद-उल-फितर उपहारों और बधाईंयों के बिना अधूरा होता है। बड़े लोग छोटों को ईदी देते हैं और साथ ही अपने दोस्तों और परिजनों को भी ईदी देते हैं। इस पाक पर्व पर लोग एक-दूसरे के घर जाते हैं, उपहार देते हैं, गले मिलकर ईद की बधाईयां देते हैं।

[जरुर पढ़ें: मंदिर जाने से आपको क्या लाभ मिलते हैं]

ईद-उल-फितर प्यार और खुशियों का त्योंहार होता है। इस दिन लोग सारे गिले-शिकवे भुलाकर एक-दूसरे से गले मिलते हैं । आप भी इस त्योंहार को खुशियों के साथ मनाइए। इस आर्टिकल को इंग्लिश में पढ़ने के लिए क्लिक करें। आप सभी को ईद मुबारक हो।

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "