अध्यात्म

navratri special significane of worshiping goddess kalratri on seventh day

Navratri Speicial: सातवें दिन देवी कालरात्रि की पूजा का महत्व

Navratri special: मां कालरात्री की आराधना मानवजाति के जीवन से सभी नकारात्मक प्रभावों को नष्ट करने के लिए की जाती हैं। मां कालरात्रि शक्ति और तेज का प्रतीक हैं। दुर्गा का ये स्वरुप साधक को बुरे प्रभावों से बचाता है।

navratri-special-why-we-worship-goddess-katyayani-on-sixth-day

Navratri special: छठें दिन देवी कात्यायनी की पूजा क्यों की जाती है

Navratri special: पांचवा दिन देवी चंद्रघंटा की पूजा क्यों की जाती है दुर्गा पूजा के छठे दिन देवी कात्यायनी की पूजा करने से भक्त अपने मन और आत्मा से अग्नि चक्र में प्रवेश करता हैं। इससे साधक को आत्म-त्याग की शिक्षा प्राप्त होती है।

navratri-special-why-we-worship-goddess-Skandmata-on-fifth-day

Navratri special: पांचवे दिन देवी स्कंदमाता की पूजा का महत्व

पांचवे दिन इनकी आराधना करने से भक्त को अपनी इंद्रियों और मन पर पूर्ण नियंत्रण करने की शक्ति मिलती है। देवी स्कंदमाता की आराधना करने से साधक का मन विशुद्ध चक्र में प्रवेश करता है।

navratri special significane of worshiping goddess Kushmanda on fourth day

Navratri special: चौथे दिन देवी कुष्मांडा की पूजा का महत्व

नवरात्रि के चौथे देवी कुष्मांडा की आराधना से साधक अनाहत चक्र में प्रवेश करता है। देवी कुष्मांडा तेज, प्रताप और रचना का प्रतीक हैं। इनकी आराधना से साधक को समरसता और ज्ञान का प्रकाश प्राप्त होता है।

Navaratri teach with self-discipline and control

Navaratri Special: नवरात्रि के दौरान व्रत रखना कैसे अनुशासन और नियंत्रण सिखाता है

Navaratri Special: नवरात्रि के दौरान उपवास रखने का मतलब केवल कुछ खाद्य पदार्थों से दूर रहनी नहीं होता है। यह आपको बहुत कुछ सिखाता है जो आपके जीवन को बदल सकते हैं। इसलिए, यह जानना महत्वपूर्ण है कि नवरात्रि के दौरान उपवास अनुशासन और नियंत्रण सीखने में कैसे मदद करता है।

navratri special why we worship goddess Chandraghanta on third day

Navratri special: तीसरे दिन देवी चंद्रघंटा की आराधना क्यों की जाती है

Navratri Speicial: नवरात्रि के तीसरे देवी चंद्रघंटा की आराधना की जाती है। देवी चंद्रघंटा ज्ञान, सद्भाव और ताकत का प्रतीक हैं। इनकी आराधना से साधक को साहस, ज्ञान और मन की शांति की प्राप्त होती है।

Things You Need To Know About The Maa Brahmacharini

Navratri Special: दूसरे दिन देवी ब्रह्मचारिणी की पूजा का महत्व

Navratri Special: नवरात्रि के दूसरे देवी ब्रह्मचारिणी की आराधना की जाती है। देवी ब्रह्मचारिणी तप, वैराग्य और सदाचार का प्रतीक हैं। इनकी आराधना से साधक को सफलता, ज्ञान और मन की शांति प्राप्त होती है।

navratri special why we worship goddess shailputri on first day

Navratri Special: पहले दिन देवी शैलपुत्री की पूजा का महत्व

Navratri Special: देवी शैलपुत्री जो जागरूकता का प्रतीक है साधक को स्वयं के बारे में जागरुक होने के लिए प्रेरित करती हैं। पहले दिन इनकी पूजा आध्यात्मिकता की शुरुआत का प्रतीक है।

value of spirituality in fast paced society

Spirituality: आज के समय में अध्यात्म का क्या महत्व है

Spirituality: आज के तेजी से बढ़ते और आधुनिक जीवन में लोग अक्सर आध्यात्मिकता के महत्व पर सवाल उठाते हैं। हालांकि, ज्यादातर लोग नहीं जानते हैं कि आध्यात्मिकता वास्तव में जीवन को बेहतर तरीके से जीने में मदद करती है।