आलोचना तारीफ से ज्यादा बेहतर क्यों होती है

Why a Criticism Is Better Than a Compliment

तारीफ पाना सबको अच्छा लगता है। किसी के अच्छे काम या किसी की खूबी की तारीफ करने से उस व्यक्ति को प्रोत्साहन मिलता है। तारीफ को लोग तहेदिल से स्वीकार करते हैं लेकिन आलोचना को बहुत से लोग पचा नहीं पाते और अक्सर इससे उदास हो जाते हैं और अपनी आलोचना को अस्वीकार कर देते हैं। हालांकि, नकारात्मक कमेंट और आलोचना से आपको कभी भी उदास नहीं होना चाहिए। असफलता अपने जीवन में किसी को भी पसंद नहीं होती है लेकिन अगर आप असफलता से बचना चाहते हैं तो अपनी आलोचनाओं को भी आपको स्वीकार करना जरुरी है। यहीं कारण है कि जीवन में सफलता पाने के लिए तारीफ से ज्यादा आलोचना महत्वपूर्ण होती है। आइए जानते हैं कि जीवन में आलोचना स्वीकार करना इतना महत्वपूर्ण क्यों होता है। [ये भी पढ़ें: शॉर्ट-टर्म मेमोरी की समस्या को दूर करने के लिए खाद्य पदार्थ]

तारीफ आपको लापरवाह बना सकती है: किसी काम में आप माहिर है तो आपकी तारीफ आपका उत्साह बढ़ाने का काम करती है। वहीं जरुरत से ज्यादा तारीफ आपमें अति-आत्मविश्वास पैदा कर देती है इससे आप काम के प्रति लापरवाह हो जाते हैं। इसलिए जरुरत से ज्यादा तारीफ आपको लापरवाह बना सकती है।

आलोचना आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करते हैं: किसी काम में परफेक्शन लाने के लिए आलोचना को स्वीकार करना जरुरी होता है। आलोचना से आप गलतियों को सुधारने का प्रयास करते हैं और खुद को आगे बढ़ाने का प्रयास करते हैं लेकिन अधिक तारीफ के कारण आप काम को लेकर उतनी मेहनत नहीं करते हैं। इसलिए आलोचना ज्यादा फायदेमंद होती है। [ये भी पढ़ें: तरीके जो लक्ष्य प्राप्त करने में मदद करते हैं]

खुद को आलोचना की सहायता से कैसे बनाए सशक्त: किसी भी प्रकार की आलोचना को सुनकर आप खुद को सशक्त बना सकते हैं लेकिन इसके लिए आपको अपना रवैया सकारात्मक बनाना पड़ता है। ऐसे में आप

  • शांत होकर आलोचना को सुने: अपनी आलोचना को शांत होकर सुनें और समझें कि आप कहां-कहां और क्या-क्या गलतियां कर रहे हैं।
  • समझें कि वे क्या कहना चाह रहे हैं: किसी भी चीज को लेकर तुंरत फैसला ना लें। अगर कोई आपकी आलोचना कर रहा है तो ध्यान से उसकी बात को सुनें और फिर समझें कि क्या वे कमियां सच में हैं? अगर ऐसा है तो फिर खुद को सुधारने की कोशिश करें।

लोगों के सलाह को ध्यान से सुनें और खुद को आगे बढ़ने में मदद करें: जो लोग आपको सफल होते देखना चाहते हैं ऐसे लोगों की सलाह को कभी भी दरकिनार ना करें। इन लोगों की आलोचना को सुनें और खुद को सुधारने के लिए सलाह भी लें। ऐसा करने से आप खुद को आगे बढ़ाने में अपनी मदद कर पाते हैं। [ये भी पढ़ें: अपनी जिंदगी से नीरसता कैसे कम करें]

    उपयोग की शर्तें

    " यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "