बाहर से अच्छे और अंदर से बुरे व्यक्ति की पहचान कैसे करें

Read in English
Ways to spot the wolf in sheep's clothing

आजकल दिखावे की दुनिया है। कुछ लोग इस बात को समझ जाते हैं जो कुछ इसके बहकावे में आ जाते हैं। कई बार ऐसा भी होता है कि आप किसी के दिखावे को प्यार समझ लेते हैं और इस वजह से आपका दिल टूट जाता है। अपनी भावनाओं के लिए आपको इस बात की पहचान होनी बहुत जरूरी है कि कौन आपका अपना है और कौन पराया। हालांकि इस बात का पता लगाना थोड़ा मुश्किल होता है। लेकिन कई बार आपको दिल के जगह दिमाग का इस्तेमाल करना चाहिए ताकि आप इस बात को समझ जाएं और आपकी भावनाओं को ठेस ना पहुंचें। लोगों की पहचान तब ज्यादा होती है जब आप किसी बुरी परिस्थिति में फंसे होते हैं। आइए जानते हैं बाहर से अच्छे और अंदर से बुरे व्यक्ति की पहचान कैसे करें। [ये भी पढ़ें: अपनी जिंदगी से नीरसता कैसे कम करें]

काबू में करने की कोशिश करते हैं:
बुरे लोग की सबसे बड़ी पहचान ये होती है कि वो आपको हमेशा काबू में करने की कोशिश करते हैं। वो ऐसी बातें करेंगे करते हैं जिससे आप उनकी बातों पर जल्दी भरोसा कर लेते हैं और वो जैसा बोलते हैं आप वैसा हीं करते हैं। इस बात को आपको खुद समझने की जरूरत है कि वो आपको काबू में करने के बारे में सोच रहे हैं।

सबका अटेंशन पाने की कोशिश करना:
जो लोग सिर्फ बाहर से अच्छे होते हैं वो हमेशा कोशिश करेंगे कि वो लोगों का अटेंशन अपनी तरफ कर लें। उनका ध्यान बस इस बात पर होता है कि वो ऐसा क्या करेंगे जिससे वो सबका ध्यान अपनी तरफ कर सकें। [ये भी पढ़ें: तरीके जो लक्ष्य प्राप्त करने में मदद करते हैं]

आपसे बहुत प्यार से बात करेंगे:
बुरे इंसान कभी भी आपको अपना सही चेहरा नहीं दिखाते हैं। वो हमेशा आपके चेहरे पर अच्छा बनते हैं और पीठ पिछे आपके साथ बुरा करने के बारे में सोचेंगे। तो जो इंसान आपसे हमेशा प्यार से और मीठी-मीठी बातें करता है, आपको उनपर सोच-समझकर भरोसा करना चाहिए।

हमेशा अपनी बातों को सही साबित करना:
जो लोग अंदर से बुरे होते हैं वो हमेशा अपने आप को सर्वोत्तम दिखाने की कोशिश करते हैं। अगर कोई बहस भी होती है तो वो इस प्रयास में होते हैं कि वो खुद को कैसे सही साबित करें और बाकियों को गलत। अगर आप किसी ऐसे इंसान को देखते हैं तो आपको सतर्क रहने की जरूरत है।

उनकी बातें हमेशा झूठी होना:
जो लोग बुरे होते हैं वो हमेशा अपनी किसी भी कहानी को घुमा-फिरा कर बोलते हैं ताकि वो दूसरों की सहानुभूति पा सकें। ऐसे में आप उनकी बातों में आ जाते हैं। लेकिन कई बार आपको उनकी सच्चाई दूसरों से पता चलती है जिसकी वजह से आपकी भावनाओं को ठेस पहुंच जाती है। [ये भी पढ़ें: संकेत जो बताते हैं कि सफलता आपके लिए मुश्किल है]

 

 

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "