टिप्स जो सोशल एंग्जायटी को दूर करने में मदद करते हैं

Tips For Overcoming Social Anxiety

बहुत से लोगों को दूसरों के सामने बात करते समय नर्वसनेस का सामना करना पड़ता है। नर्वस होना स्वभाविक होता है लेकिन अगर आप बात करते समय हमेशा नर्वस हो जाते हैं यह एंग्जायटी का संकेत होता है। एंग्जायटी का यह प्रकार सोशल एंग्जायटी के नाम से जाना जाता है। अगर आप भी सोशल एंग्जायटी के शिकार है तो हम आपको बताने जा रहे हैं कि कैसे आप खुद को सोशल एंग्जायटी की परिस्थिति से बाहर निकाल सकते हैं। आइए जानते हैं कि किन टिप्स की मदद से आप खुद को सोशल कि स्थिति से एंग्जायटी से बाहर निकाल सकते हैं। [ये भी पढ़ें: संकेत जो बताते हैं कि आप साइकोपैथ से डील कर रहे हैं]

1.विचारों को ज़ाहिर करना सीखें: सोशल एंग्जायटी के कारण आप लोगों के सामने बोलने से घबराते हैं इसलिए आपको सबसे पहले अपने विचारों को ज़ाहिर करना सीखना होगा। अपने दोस्तों, परिजनों के सामने अपने विचारों को रखें जिससे आपमें अपने विचारों को अभिव्यक्त करने का विश्वास पैदा होता है।

2.ध्यान भटकाने की कोशिश करें: आप जब भी लोगों के सामने अपनी बात रख रहे होते हैं तो आप महसूस करने लगते हैं कि आपके दिल की धड़कने तेज हो रही है, आपको पसीने आ रहे हैं। ऐसे में आपकी नर्वसनेस और भी बढ़ जाती है इसलिए अपना ध्यान भटकाने की कोशिश करें। खुद पर ध्यान देने की बजाय लोगों पर ध्यान दें कि वे कितनी गंभीरता से आपको सुन रहें है। [ये भी पढ़ें: संकेत जो बताते हैं कि आपको सामाजिक होना पसंद नहीं है]

3.अपने डर का सामना करें: परिस्थितियों से बचने से सोशल एंग्जायटी कम नहीं होती है। ऐसे में बेहतर ये होता है कि अपने डर का सामना करना सीखें और लोगों से बातचीत करने की कोशिश करें इससे आपको सोशल एंग्जायटी से उबरने में मदद मिलती है।

4.परफेक्ट होने की कोशिश ना करें: इस दुनिया में परफेक्ट कोई नहीं होता इसलिए परफेक्ट बनने की कोशिश ना करें। इंसान गलतियों से ही सीखता है इसलिए गलतियों से घबराएं नहीं और लोगों से बातचीत कर सोशल एंग्जायटी से उबरने के अपने प्रयास जारी रखें।

5.दूसरों की परवाह करना छोड़ें: आपके बोलने पर लोग आपका मजाक बनाएंगें ऐसा सोचकर अगर आप बोलने से डरते हैं तो यह आपकी सबसे बड़ी गलती है। खुद को एंग्जायटी से बाहर निकालने के लिए लोगों की परवाह ना करें और अपने विचारों को खुलकर दूसरों के सामने रखें जिससे आपको सोशल एंग्जायटी से उबरने में मदद मिलती है। [ये भी पढ़ें: सफल लोग सोने से जुड़ी कौन सी आदतों का पालन करते हैं]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "