अगर आप फंसा हुआ महसूस करते हैं तो अपने जीवन में क्या बदलाव करें

Read in English
things to remember when you’re feeling stuck

कहीं फंसा हुआ महसूस करना जीवन में सबसे उदास करने वाली भावना होती है। आप एक गलत रिश्ते, नौकरी जैसी किसी भी चीज में फंस सकते हैं। इस दौरान आपको क्या करना चाहिए आपको समझ नहीं आ रहा होता है। लेकिन आप इस समस्या से बाहर आ सकते हैं। जीवन में कितनी ही मुश्किलें क्यों ना आ जाएं उसे दूर करके व्यक्ति अपने जीवन को बेहतर बना सकता है। इस दौरान कुछ तरीकें ढूंढकर आप अपनी समस्या से बाहर आ सकते हैं और अपने जीवन को बेहतर बना सकते हैं। तो आइए आपको कुछ तरीके बताते हैं जो आपको फंसा हुआ महसूस होने के बाद जीवन में बदलाव करके कैसे इससे बाहर आया जा सकता है। [ये भी पढ़ें: पढ़ना कैसे आपकी याद्दाश्त और दिमागी शक्ति को बढ़ाता है]

खुद से ईमानदार रहें: आप अपने जीवन में समस्याओं को तब तक ठीक नहीं कर सकते जब तक उसे स्वीकारें नहीं। यह जताने की कोशिश ना करें कि सब ठीक है। आपसे जीवन में जो गलती हुई है उसकी जिम्मेदारी लें। स्वीकारें की आपके गलत निर्णय की वजह से आपके साथ ऐसा हुआ है। जब तक आप खुद से ईमानदार नहीं रहेंगे उससे पहले आप अपने जीवन को ठीक नहीं कर पाएंगें।

उन चीजों को ढूंढे जिनमें आप अच्छे हों: अगर आपके दोस्त कहते हैं कि आप किसी चीज में अच्छे हैं लेकिन अगर आपको यह नहीं लगता है तो एक बार अपने दोस्तों की बात मानकर उस चीज को करने की कोशिश करें। ऐसा करने से शायद आप बिगड़े हुए काम को बना सकते हैं। अगर आप उस काम को बेहतर कर पाते हैं तो उसे दोबारा करने की कोशिश करें। ऐसा करने से आपको अच्छा महसूस होगा और जीवन की अड़चनों को दूर करने में मदद मिलेगी। [ये भी पढ़ें: खुद से बात करने से क्या फायदे होते हैं]

दूसरों से तुलना ना करें: आपका जीवन सिर्फ आपका है लेकिन अगर आप किसी दूसरे की तरह जीवन व्यतीत करना चाहते हैं तो जरुरी नहीं है कि आप भी उस इंसान की तरह काम करें। खुद की दूसरों से तुलना करने पर आप अपने आप को आगे बढ़ने से रोक रहे होते हैं। वह इंसान कठिन परिश्रम कर रहा होता इसलिए आगे बढ़ रहा होता है। आप भी कठिन परिश्रम करके अपने जीवन को बेहतर बना सकते हैं। दूसरों से प्रेरणा लें नाकि खुद की तुलना करने लगे।

सोचें: आप जो सोचते हैं वही बनते हैं इसलिए किसी भी चीज को ना मत कहें। कभी ये बात ना कहें कि मैं बेहतर नौकरी नहीं कर सकते बल्कि यह कहें कि मैं इससे बेहतर नौकरी ढूंढ सकता हूं या सकती हूं। जिम्मेदारियों से दूर भागने की बजाय उन्हें लेने की कोशिश करें ताकि उसमें सफलता मिल सके।

अपने विचारों पर ध्यान दें: जब आप खुद पर भरोसा करने लगते हैं तो आपके चारों तरफ का माहौल भी बेहतर हो सकता है। अगर आप कुछ भी करने से खुद को रोकते रहते हैं तो आप हमेशा फंसे रहेगें। इसलिए अपने विचारों पर ध्यान दें ताकि आपको उस समस्या से बाहर निकलने का कोई रास्ता मिल सके। [ये भी पढ़ें: संकेत जो बताते हैं कि आपका दिमाग ज्यादा सोचने का शिकार हो रहा है]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "