संकेत जो बताते हैं कि आप टॉक्सिक मस्क्यूलिनिटी का शिकार हैं

Read in English
signs-you-are-a-victim-of-toxic-masculinity

टॉक्सिक मस्क्यूलिनिटी का मतलब पुरुषों के उस मर्दाना रवैये से हैं जो अक्सर उनकों अपनी भावनाओं और भावुकताओं को जाहिर करने से रोकता हैं। इस मानसिकता से ग्रस्त पुरुष हमेशा अपना दुख छिपाते हैं और अक्सर अपनी भावनाओं को जाहिर नहीं होने देते हैं। टॉक्सिक मस्क्यूलिनिटी पुरुषों के मानसिक स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होती है। अपनी भावनाओं की अपेक्षा करने के कारण उनमें अनेक शारीरिक और मानसिक विकार जैसे दिल की बीमारियां, डिप्रेशन और आत्महत्या जैसे विचार पैदा हो सकते हैं। इस मानसिकता से मुक्ति पाना भी आसान नहीं होता है। आइए जानते हैं कि क्या है टॉक्सिक मस्क्यूलिनिटी के संकेत। [ये भी पढ़ें: हर परिस्थिति में तुरंत आत्म-विश्वास बढ़ाने के लिए आजमाएं आसान टिप्स]

1.आपको हमेशा जीतने की जिद होती है: टॉक्सिक मस्क्यूलिनिटी से ग्रस्त लोग हारना अपनी शान के खिलाफ समझते हैं। इनके लिए हर स्थिति में और किसी भी कीमत पर जीतना जरुरी होता है और उसके लिए ये धोखाधड़ी करने से भी गुरेज नहीं करते हैं।

2. आप भावनाओं को नियंत्रित करना चाहते हैं: रोने से मन हल्का होता है लेकिन टॉक्सिक मस्क्यूलिनिटी से ग्रस्त लोग इस बात को समझते नहीं है और रोना कमजोरी की निशानी मानते हैं। इस मानसिकता के लोग भावनाओं को तो छुपा लेते हैं लेकिन अंदर ही अंदर तनाव के शिकार होने के कारण अक्सर डिप्रेशन और कार्डियोवस्कुलर बीमारियों का शिकार हो जाते हैं। [ये भी पढ़ें: नाइट टेरर की समस्या क्यों और कैसे होती है]

3. दूसरों के मदद नहीं लेते: मनुष्य एक सामाजिक प्राणी है और समाज में रहने के लिए आपको दूसरों की मदद की जरुरत होती है लेकिन टॉक्सिक मस्क्यूलिनिटी से ग्रस्त लोग किसी की भी मदद नहीं लेना चाहते हैं और खासकर वे महिलाओं की मदद लेना अपना अपमान समझते हैं।

4.बहुत ज्यादा रिस्क लेना: आपको खतरों से खेलने का शौक है और आप अक्सर स्टंट करते हैं। फिल्मों के स्टंट दोहराते हैं और हर वो काम करते हैं जिसमें जान का खतरा होता है जो यह संकेत होता है कि आप टॉक्सिक मस्क्यूलिनिटी के शिकार हैं।

5.आप दूसरों को नीचा दिखाते हैं: इन लोगों को हमेशा जीतना पसंद होता है फिर वो चाहें कोई प्रतियोगिता हो या कोई बहस। अगर आप हर बहस में जीतना चाहते हैं और इसके लिए लोगों को नीचा दिखाने से भी बाज नहीं आते तो आप इस तरह की मानसिकता के शिकार हो सकते हैं। [ये भी पढ़ें: वातावरण में सकारात्मक ऊर्जा का संचार करने के लिए उपाय]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "