संकेत जो बताते हैं कि आप अपनी भावनाओं से दूर हो रहे हैं

Read in English
signs that you are out of touch with your emotions

अपनी भावनाओं पर नियंत्रण होना बहुत आवश्यक है। अगर आप अपनी भावनाओं पर काबू रख पाते हैं तो आप अपने चाहने वालों को अपनी भावनाओं के जरिए बहुत कुछ बता सकते हैं। कई बार लोग अपनी भावनाओं की वजह से असहज महसूस करते हैं और इस वजह से खुद की ही भावनाओं से लोग दूर भागने लगते हैं। यह आपके मानसिक स्वास्थ्य के लिए गलत है क्योंकि इसकी वजह से आप अपनों से ही अपनी भावनाओं को साझा नहीं कर पाते हैं और आपके अंदर की गलत और सही भावनाओं के बारे में उन्हें पता नहीं चल पाता है। हालांकि अगर आपको लग रहा है कि आप खुद के व्यक्त नहीं कर पा रहे हैं तो हो सकता बहै कि आप अपनी भावनाओं से दूर हो रहे हैं। आइए जानते हैं वो संकेत जा बताते हैं कि आप अपनी भावनाओं से दूर हो रहे हैं। [ये भी पढ़ें: अपने पहले इंप्रेशन को अच्छा कैसे बनाएं]

आपको अकेले रहने से डर लगता है
अगर आप थोड़े समय के लिए भी अकेले नहीं रहना चाहते हैं और खुद को अकेला पाकर डरने लगते हैं तो यह संकेत बताता है कि आप अपने भावों और जज्बातों से दूर होते जा रहे हैं।

किसी के साथ झगड़ा नहीं करना चाहते
किसी के साथ झगड़ा ना करना अच्छी बात है। हालांकि अगर आप कारण होने पर भी किसी के साथ झगड़ा करने से बचते हैं और अपनी बात को व्यक्त करना नहीं चाहते हैं तो यह बताता है कि आप अपनी भावनाओं को बाहर नहीं लाना चाहते हैं और उनसे दूर हो रहे हैं। [ये भी पढ़ें: ब्रेन हैक्स जो क्रिएटिविटी, फोकस और आईक्यू को बढ़ाते हैं]

दूसरे लोगों को दोषी ठहराना
हर गलत या सही काम के लिए किसी और को दोषी ठहराना उचित नहीं है। अगर आप ऐसा कर रहे हैं तो आपको इस पर ध्यान देने की जरुरत है। ऐसा आप तब करते हैं जब आप जानना नहीं चाहते कि आपके इमोशन्स आपसे क्या कह रहे हैं और आप हर चीज के लिए दूसरों को दोषी ठहरा देते हैं।

आपको तारीफ पसंद नहीं आती
अगर आजकल आप अपनी तारीफ सुनकर चिढ़ जाते हैं और सोचते हैं कि जो भी आपकी तारीफ करता है, वह झूठा है तो हो सकता है कि आप अपनी भावनाओ से दूर हो रहे हैं और आप कुछ महसूस ही नहीं करना चाहते हैं।

किसी से बात करते वक्त विषय बदल देना
अगर आप किसी से बातचीत के दौरान असहज हो जाते हैं और उस विषय पर बात करना पसंद नहीं करते जो आपको असहज कर रहा है और चाहते हैं कि वो विषय को बदल दिया जाए तो यह संकेत बताता है कि आप अपनी भावनाओं से दूर हो रहे हैं। आप ऐसा इसलिए करते हैं क्योंकि आप अपनी भावनाओं से खुद को बचाना चाहते हैं। [ये भी पढ़ें: संकेत जो बताते हैं कि आप मानसिक रुप से कमजोर हैं]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "