संकेत जो बताते हैं कि आप इमोशनली इंटेलिजेंट हैं

Read in English
signs of emotional intelligence

इमोशनली इंटेलिजेंट लोग अपनी भावनाओं पर काबू करना जानते हैं।

इमोशनल इंटेलिजेंस मिलना काफी मुश्किल है। यह भावनाओं पर नियंत्रण करने से कही ज्यादा है। आपकी भावनाओं को संभालने, उन्हें नियंत्रित करने और उन्हें सही तरीके से बनाने की क्षमता को इमोशनल इंटेलिजेंस कहते हैं। यह आपको सही समय पर सही निर्णय लेने में मदद करती है। जो लोग इमोशनली इंटेलिजेंट होते हैं उनमें कुछ सामान्य और स्पष्ट संकेत दिखते हैं। जिस तरह वो अपने फैसले लेते हैं और अपनी भावनाओं को अपने नियंत्रण में रखते हैं, इससे पता चलता है कि उनकी इमोशनल इंटेलिजेंस बाकी लोगों से ज्यादा है। इसलिए, वे केवल मानसिक रूप से मजबूत नहीं बल्कि भावनात्मक रूप से बुद्धिमान भी होते हैं। इमोशनल इंटेलिजेंस दिखाती है कि आप भावनाओं को अपनी कमजोरी बनाने की बजाय अपनी शक्ति के रूप में इस्तेमाल करते हैं। आइए जानते हैं वो संकेत जो बताते हैं कि आप इमोशनली इंटेलिजेंट हैं। [ये भी पढ़ें: खुद को मानसिक और भावनात्मक रुप से मजबूत कैसे बनाएं]

इमोशनली इंटेलिजेंट लोगों में दिखने वाले संकेत:

  • अपनी भावनाओं पर गौर करना
  • भावनाओं का विश्लेषण करना
  • आलोचना को सकारात्मक रुप से लेना
  • माफ करने की क्षमता
  • अपने विचारों पर नियंत्रण रखना

अपनी भावनाओं पर गौर करना
अपनी भावनाओं पर ध्यान देना बहुत आवश्यक है। ये बेहद महत्वपूर्ण हैं। जो लोग अपनी भावनाओं पर ध्यान देते हैं, उन्हें पता होता है कि भावनाएं उनकी परफॉर्मेंस को कैसे प्रभावित करती हैं। जब हम अपनी भावनाओं को अनदेखा कर देते हैं, तो हम खुश नहीं रह पाते। जो लोग इमोशनली इंटेलिजेंट होते हैं, वो अपनी भावनाओं को अनदेखा नहीं करते हैं। यह उन्हें बेहतर तरीके से सोचने में मदद करता है।

भावनाओं का विश्लेषण करना
जो लोग इमोशनली इंटेलिजेंट होते हैं, वो कभी भी कोई निर्णय जल्दी में नहीं करते हैं। वो अपने परफॉर्मेंस और व्यवहार को विश्लेषण करने में समय लेते हैं। आत्मनिरीक्षण सफलता की कुंजी है। जब आप अपने कार्यों का विश्लेषण करते हैं, तो आप बेहतर तरीके से खुद को जानने में सक्षम होते हैं। यह आपको बेहतर तरीके से कार्य करने में भी मदद करता है।

आलोचना को सकारात्मक रुप से लेना
आलोचना को स्वीकार करना मुश्किल होता है लेकिन यह लाभकारी है। अपनी आलोचनाओं को सकारात्मक रूप से लें और उनसे सीखें। जो लोग आलोचना होने के कारण खुद को हारा हुआ मानते हैं वो जीवन में अपने लक्ष्यों को प्राप्त नहीं कर पाते। आलोचना आपको इमोशनली इंटेलिजेंट कैसे बनाती है, इस बारे में पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। जो लोग भावनात्मक रूप से बुद्धिमान होते हैं, वो सीखने और खुद को सुधारने में विश्वास रखते हैं।

माफ करने की क्षमता
जो लोग इमोशनली इंटेलिजेंट होते हैं वो लोगों को माफ करने की क्षमता रखते हैं। माफी सफल लोगों की सबसे बड़ी विशेषता है। वो लोग किसी के साथ अधिक समय तक गुस्सा नहीं रहते हैं। वो माफ करते हैं, भूल जाते हैं, और आगे बढ़ते हैं। इससे उनके दिमाग पर भावनात्मक बोझ नहीं बढ़ता है।

अपने विचारों पर नियंत्रण रखना
जो लोग अपने दिमाग को केंद्रित नहीं कर पाते हैं उनके लिए अपने जीवन पर ध्यान केंद्रित करना मुश्किल होता है। इमोशनली इंटेलिजेंट लोगों का सबसे आम संकेत यह है कि उनका अपने विचारों पर नियंत्रण होता है। वो जानते हैं कि उन्हें कैसे अपनी भावनाओं पर नियंत्रित करना है और परिस्थितियों के अनुसार कैसे काम करना है। यह उन्हें सफल और भावनात्मक रूप से बुद्धिमान बनने में मदद करता है। [ये भी पढ़ें: भावनात्मक हिंसा से पीड़ित व्यक्ति में दिखने वाले लक्षण]

इमोशनली इंटेलिजेंट लोग अपनी भावनाओं को व्यक्त करने में हिचकिचाते नहीं है बल्कि इन्हें सही समय पर व्यक्त करते हैं। इस आर्टिकल को इंग्लिश में पढ़ने के लिए क्लिक करें।

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "