सीजनल अफेक्टिव डिसऑर्डर को दूर करने के प्राकृतिक उपाय

Read in English
natural-tips-to-get-rid-of-seasonal-affective-disorder

photo Credit:2gis.ru

सर्दियों के मौसम आने पर क्या आप अक्सर खुद को उदास महसूस करते हैं? यह एक साइकोलॉजिकल डिसऑर्डर है, जो कि आपको सर्दियों के मौसम में खुश नहीं रहने देता। सीजनल अफेक्टिव डिसऑर्डर में अक्सर मौसम के बदलने के साथ आपका मूड भी बदल जाता है। इस डिसऑर्डर से पीड़ित लोग अक्सर गर्मी और वसंत ऋतु में खुश रहते हैं क्योंकि उस समय मौसम में प्राकृतिक रंग होता है और सूर्य की रोशनी भी पर्याप्त मात्रा में मिलती है। सर्दियों के ठंडे दिनों में अक्सर इन लोगों को असहज और उदासी महसूस होती है। यह कोई बहुत बड़ी मानसिक बीमारी नहीं है लेकिन इसे अनदेखा करना ठीक नहीं। आइए जानते हैं सीजनल डिप्रेशन को कम करने के लिए उपयोगी और प्राकृतिक उपाय। [ये भी पढ़ें: घरेलू उपचार जिनकी मदद से ब्रेस्ट साइज कम किया जा सकता है]

1. दिन की रोशनी में ज्यादा रहना: जब आप सीजनल डिप्रेशन से परेशान होते हैं तो ऐसे में आपको दिन में सूरज की रोशनी में ज्यादा से ज्यादा समय बिताना चाहिए। अंधेरे या कम रोशनी में ज्यादा समय के लिए रहना आपको सीजनल डिप्रेशन का शिकार बना सकता है। अगर आप इस समस्या से पीड़ित हैं तो यह आपके तनाव को बढ़ा सकता है। इसलिए कोशिश करें कि काम करते समय कमरे की खिड़कियां खुली रखें और सूर्य की रोशनी को कमरे में आने दे।

2. अपने आप को मनोरंजक गतिविधियों में व्यस्त रखें: सीजनल अफेक्टिव डिसऑर्डर के दौरान आपको खुद को खुश रखने का प्रयास करना आवश्यक होता है। आप ऐसी मनोरंजक गतिविधियों का सहारा ले सकते हैं जिनसे आपको खुशी मिले। इस मौसम में आप अपनी रुचि के कार्यों की तरफ अधिक ध्यान दें ताकि आपको डिप्रेशन से उबरने में मदद मिले। [ये भी पढ़ें: वजन घटाने के बाद त्वचा के ढ़ीलेपन को दूर करने के घरेलू उपचार]

3. लाइट थेरेपी: लाइट थेरेपी एक ऐसा उपाय है जो आपके सीजनल अफेक्टिव डिसऑर्डर को कम करने में मदद करता है। ऐसे में आप अनेक डिवाइस का इस्तेमाल कर सकते हैं जो आपको पर्याप्त रोशनी देते हैं। आप पोर्टेबल लाइट बॉक्स, स्पेशल लाइट बल्ब आदि का प्रयोग कर सकते हैं।

4.एक्सरसाइज और वर्कआउट: सर्दियों का मौसम आने पर भी योग-व्यायाम करना ना छोड़ें। रोजाना योग, वर्कआउट और एक्सरसाइज करने से आप इस डिसऑर्डर के प्रभाव को कम भी कर सकते हैं और खुद को स्वस्थ रख सकते हैं।

5. अन्य उपाय: इन उपायों के अलावा आप अन्य उपचारों का इस्तेमाल कर सकते हैं। आप रेगुलर डाइट ले सकते हैं जो विटामिन B6, थायमिन और फॉलिक एसिड से भरपूर हो। ये तत्व आपमें उन हार्मोन्स के स्राव को बढ़ाने में मदद करते हैं जो आपको खुश रखते हैं। जरुरत से ज्यादा जंक फूड, कैंडी, चॉकलेट और शुगर युक्त भोजन का सेवन ना करें। [ये भी पढ़ें: गर्दन के कालेपन को दूर करने के घरेलू उपाय]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "