रात को सोते समय आपको हो सकती कुछ अजीबो-गरीब समस्याएं

Mysterious Things That Happen to Your Body When You Sleep

मानव मस्तिष्क काफी जटिल होता है और इसे समझना बेहद मुश्किल होता है। हमारे दिमाग में दिनभर में हजारों सकारात्मक और नकारात्मक ख्याल आते हैं। दिनभर में दिमाग को इन ख्यालों से छुटकारा नहीं मिल पाता लेकिन रात को सोने के बाद भी सपने आना भी हमारे दिमाग की ही उपज होती है। हालांकि रात को नींद में केवल सपने ही एक ऐसी चीज नहीं है जो हमारे साथ घटती है। इसके अलावा भी कुछ और अजीबो- गरीब चीजें हमारे साथ होती हैं। क्या है सोने के दौरान होने वाली ये चीजें और क्या है इनके पीछे के कारण आइए जानते हैं। [ये भी पढ़ें: सीजनल अफेक्टिव डिसऑर्डर को दूर करने के प्राकृतिक उपाय]

1.स्लीप पैरालाइसिस: स्लीप पैरालाइसिस एक समस्या है जो कि पैरालाइसिस होने से पहले जब शरीर एकदम रिलेक्स होता तब पैदा होती है। इस दौरान आप भले ही सोएं हो लेकिन आपका मस्तिष्क जगा रहता है। इस स्थिति में सांस कम आना, बोल ना पाना और मतिभ्रम जैसी समस्याएं पैदा हो जाती है।

2. नींद में बात करना:Mysterious Things That Happen to Your Body When You Sleepनींद में बात करना एक प्रकार का स्लीप डिसऑर्डर है, जिसमें व्यक्ति नींद में बड़बड़ाता रहता है, लेकिन उसे इस चीज की कोई खबर नहीं होती। नींद में बात करना कॉन्शियस(सचेतन) माइंड का काम नहीं होता। जब लोग रात को नींद में खुद से ही बात कर रहे होते हैं तो ऐसे में बहुत बार ये समझना मुश्किल होता है कि ये क्या कहने की कोशिश कर रहे हैं। नींद में बात करना सामान्य है और ये शरीर के लिए हानिकारक नहीं होता लेकिन कुछ मामलों में ये स्लीप डिसऑर्डर जैसी बीमारी का भी संकेत होता है। नींद में बात करने के तनाव
डिप्रेशन, बुखार, सुबह का आलस्य, बुरा सपना, मानसिक परेशानी, मानसिक और मेडिकल बीमारी आदि कारण हो सकते हैं। [ये भी पढ़ें: हर परिस्थिति में खुश रहने के लिए खुद से प्यार करना कैसे सीखें]

3.हिप्निक जर्क:

Photo Credit: Bilimi Seviyorumरात को सोते हुए ऐसा महसूस हुआ है कि आप किसी ऊंची जगह से गिर रहे हैं और आपकी नींद टूट जाती है। इस स्थिति के बाद जब व्यक्ति उठता है तो उसकी धड़कने तेज हो जाती हैं और काफी पसीना आता है। अगर आपके साथ ऐसा होता है तो यह एक समस्या है जिसे हिप्निक जर्क या हिप्नोगोजिक जर्क के नाम से जाना जाती है। हिप्निक जर्क मांसपेशियों में ऐंठन की वजह से होता है। यह किसी एक मांसपेशी या कई मांसपेशियों में एक साथ भी होने की वजह से हो सकता है। साधारणतः यह तब होता है जब आप नींद के पहले हिस्से में होते हैं यानी आप थोड़ी देर पहले ही सोए हों। विज्ञान नींद की इस अवस्था को ‘हिप्नोगोजिक स्टेट ऑफ कांसियसनेस’ कहते हैं। इसी वजह से इसे हिप्नोगोजिक जर्क के नाम से भी जाना जाता है। इसके अन्य कारण चिंता, तनाव, शराब का अत्यधिक सेवन आदि होते हैं।

4.नाइट टेरर:
Mysterious Things That Happen to Your Body When You Sleep नाइट टेरर और रात के बुरे सपने के बीच फर्क सिर्फ इतना होता है कि इसमें आपको अपने बैड के आसपास कोई अनजानी चीज महसूस होती है जिसके डर के मारे आप चीखने-चिल्लाने लगते हैं। यह अक्सर बच्चों के साथ होता है। यह परेशानी लोगों में अक्सर अनुवांशिक होती है। [ये भी पढ़ें: ईटिंग डिसऑर्डर के शरीर पर पड़ने वाले दुष्प्रभाव]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "