जानिए क्या है अवॉयडेंट पर्सनालिटी डिसऑर्डर

know about avoidant personality disorder

किसी भी व्यक्ति में मानसिक विकार, मस्तिष्क में होने वाले हार्मोनल परिवर्तन और बदलाव के कारण होता है। कुछ मानसिक विकार ऐसे भी होते है जो सीधे तौर पर समाज और अन्य लोगों से जुड़े होते है, इसमें व्यक्ति अपने आप को बहुत ज्यादा सीमित कर लेता है और बाहर के लोगों से मिलना, उनसे बाते करने में काफी ज्यादा संकोच करता है। इस तरह के सभी मानसिक विकार सोशल डिसऑर्डर से जुड़े होते हैं। उन्हीं में से एक अवॉयडेंट पर्सनालिटी डिसऑर्डर है। इसमें व्यक्ति घर के बाहर के लोगों और अपने परिवार के सदस्यों को अवॉयड करने लगता है। इससे ग्रसित व्यक्ति ना किसी से मिलना चाहता हैं और ना कहीं ग्रुप (समूह) में जाकर अपनी बात को कहना चाहते हैं। आइए जानते हैं इससे जुड़ी अन्य बातों के बारें में।[ ये भी पढ़ें: स्चिज़ॉयड पर्सनालिटी डिसऑर्डर जो बढ़ा देता है रिश्तों में दूरी]

अवॉयडेंट पर्सनालिटी डिसऑर्डर के कारण:
know about avoidant personality disorder
इस तरह के मानसिक विकार के कारणों के बारें में अब तक कुछ भी नहीं पता लग पाया है कि आखिर यह किन कारणों से हैं। लेकिन कई मनोचिकित्सक अवॉयडेंट पर्सनालिटी डिसऑर्डर के पीछे का कारण अनुवांशिकता और आस-पास के वातावरण को मानते हैं। कई ऐसे मानसिक विकार पाए जाते हैं जिनके होने के पीछे अनुवांशिकता को एक अहम कारण माना जाता है। इसके अंतर्गत व्यक्ति को यह मानसिक विकार उसके परिवार के किसी सदस्य से मिलता है। इसके अलावा व्यक्ति के आस-पास का वातावरण को इसका कारण माना जाता है। कई बार व्यक्ति के आस-पास का वातावरण इतना खराब होता है जिसका सीधा असर व्यक्ति के मस्तिष्क पर पड़ने लगता है। यह कारण बच्चों में खासतौर पर देखने को मिलता है क्योंकि उनका मस्तिष्क इस तरह के वातावरण से बहुत ज्यादा प्रभावित होते हैं।

अवॉयडेंट पर्सनालिटी डिसऑर्डर के लक्षण: इस तरह के मानसिक विकार के कारण व्यक्ति के घर के बाहर किसी से मिलने और किसी से बात करने में बहुत ज्यादा घबराहट होती है क्योंकि उसके मन में बहुत ज्यादा डर बैठा होता है।

अवॉयडेंट पर्सनालिटी डिसऑर्डर की जांच:

know about avoidant personality disorder
इस तरह के मानसिक विकार की जांच के लिए मनोचिकित्सक पीड़ित व्यक्ति की जांच से पहले यह जानने की कोशिश करता है कि उसे यह डिसऑर्डर है भी या नहीं। इसकी जांच के लिए डॉक्टर अवॉयडेंट पर्सनालिटी डिसऑर्डर से पीड़ित व्यक्ति से चुनिन्दा सवाल करते हैं। जिसके आधार पर उसमें इस बीमारी की जांच की जाती है।

अवॉयडेंट पर्सनालिटी डिसऑर्डर का उपचार:
know about avoidant personality disorderइसका उपचार करने के लिए उन सभी उपचारों को आधार बनाया जाता है, जिनसे सोशल डिसऑर्डर को ठीक किया जाता है। इसमें भी काउंसलिंग और दवाओं का सहारा लिया जाता है और व्यक्ति के भीतर सकारात्मक ऊर्जा का संचार किया जाता है। इस तरह की काउंसलिंग में पीड़ित व्यक्ति से उसके इस विकार से जुड़ी सभी समस्याओं पर बात की जाती है। उसे यह भरोसा दिलाया जाता है कि वह सबसे सुरक्षित है और लोगों से न डरना है और कैसे अपने भीतर का आत्म-विश्वास वापस लाना है इस बारें में बताया जाता है।[ये भी पढ़ें: वृद्धावस्था में मानसिक अस्वस्थता, ये हो सकते हैं कारण]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "