इनसोम्निया की समस्या को दूर करने के लिए अपनाएं ये उपाय

How to get rid of the problem of insomnia

इनसोम्निया एक प्रकार का मानसिक विकार है, जिसमें ग्रसित व्यक्ति को नींद ना आने की समस्या होने लगती है। इस तरह के मानसिक विकार होने के पीछे कई कारण होते हैं जैसे- बहुत ज्यादा तनाव में रहना, आस-पास का माहौल, बहुत ज्यादा दवाओं का सेवन करना, शारीरिक रूप से हर वक्त बीमार रहना, ठीक समय पर न सोने की आदत, डिप्रेशन और एंग्जायटी। इनसोम्निया के उपचार के तौर पर कई बार बहुत से चिकित्सक नींद की दवाओं का उपयोग करते हैं, इस तरह की दवाओं से आराम तो मिल जाता है, लेकिन शरीर में इसके साइड इफेक्ट देखने को मिलते हैं। इसके अलावा नीचे कुछ चुनिन्दा और खास तरह के उपाय दिए गये हैं जिनके जरिए इनसोम्निया से छुटकारा पाया जा सकता है।  [ये भी पढ़ें: रात को सोने से पहले फोन का प्रयोग करना हो सकता है खतरनाक]

1.सोने से पहले गर्म पानी से स्नान करें:
How to get rid of the problem of insomniaएक शोध के मुताबिक सोने से पहले नहाना बहुत ही अच्छा माना जाता है। इसके पीछे का अहम कारण यह है कि नहाने के बाद हमारे शरीर का तापमान एकदम से कम हो जाता है। जिसके कारण हमारा दिमाग पूरे शरीर की गति को कम करने का संकेत देता है जिसके परिणाम स्वरूप व्यक्ति को आसानी से नींद आने लगती है, इसलिए सोने से पहले गर्म पानी से नहाना काफी फायदेमंद माना जाता है।

2.रोजना व्यायाम करें:
How to get rid of the problem of insomniaव्यायाम ना केवल हमें शारीरिक रूप से तंदरुस्त रखता है बल्कि यह मानसिक रूप से फिट रखने के काम आता है। इनसोम्निया के उपचार के लिए व्यायाम को काफी फायदेमंद पाया गया है। व्यायाम के कारण हमारे शरीर में होने वाले हार्मोनल प्रक्रिया में बढ़ोतरी होती है। सप्ताह में तीन से चार दिन व्यायाम करने से इनसोम्निया जैसे विकार से उबरा जा सकता है।  [ये भी पढ़ें: आखिर क्यों हमेशा थका महसूस करते हैं आप?]

3.योग और मेडिटेशन का सहारा लें: योग और मेडिटेशन दोनों ही हमारे मानसिक स्वास्थ्य के लिए सबसे बेहतर माना जाता है। योग हमारे भीतर की ऊर्जा को बनाये रखता है, मेडिटेशन के कारण हमारा मन शांत रहता है जिसकी वजह से दिमागी रूप से थकावट नहीं होती है। इन कारणों से नींद भी पूरी होती है। इनसोम्निया से पीड़ित व्यक्ति के लिए मेडिटेशन और योग को सबसे बेहतर उपाय माना जाता है। नियमित रूप से हर सुबह योग और मेडिटेशन करने से इस तरह के मानसिक विकार को ठीक किया जा सकता है।

4. सोने से पहले अपने आहार का खास ख्याल रखें:
How to get rid of the problem of insomniaइनसोम्निया से पीड़ित व्यक्ति को सोने से पहले अपने खान-पान का ध्यान रखना चाहिए। ऐसे में समय से लेकर वह क्या खा रहा है इन बात का पूरा ध्यान रखा जाना जरुरी है। क्योंकि यह दोनों ही रात को नींद न आने में एक अहम कारण हो सकते हैं। सोने से पहले तला-भुना खाना या ज्यादा फैट वाला भोजन खाने से रात को ठीक से नींद नहीं आने की शिकायत होती है। इसके साथ-साथ सोने से 2 घंटे पहले ही व्यक्ति को भोजन करना चाहिए जिससे कि वह ठीक से पच जाए। सोने के ठीक पहले भोजन करना हानिकारक सबित हो सकता है।

5.सोने से पहले कैफीन का सेवन न करें:
How to get rid of the problem of insomniaसोने से पहले कॉफ़ी या कैफीन युक्त पेय जैसे- कोल्डड्रिंक, चॉकलेट ड्रिंक, चाय आदि का सेवन सेवन नहीं करना चाहिए। कैफीन का सेवन हमारे नर्वस सिस्टम पर सीधा असर करता है। जो कि नींद ना आने और इनसोम्निया जैसे विकार का कारण बन जाता है। [ ये भी पढ़ें: इन कारणों से हो सकती है मानसिक अस्वस्थता]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "