खुद को स्मार्टफोन से दूर रखने के लिए कैसे करें डिजिटल डिटॉक्स

how to do a digital detox

वक्त आपकी जिंदगी में सबसे कीमती चीज हैं और यही कीमती चीज आप अपने करीबी लोगों के साथ शेयर नहीं कर पा रहे हैं क्योंकि आजकल की डिजिटल तकनीक ने हमें इस तरह से अपने वश में कर लिया है कि हम खुद को इसके जाल से निकाल ही नहीं पाते हैं। हमारा दिन का अधिकतर समय किसी ना किसी डिजिटल डिवाइस का इस्तेमाल करते हुए निकल जाता है। ऑफिस में कम्प्यूटर या लैपटॉप पर तो आप काम करते ही हैं साथ ही ऑफिस के बाद भी हम अपने स्मार्टफोन्स पर नजरें गड़ाएं होते हैं। आपकी जॉब में बेशक आपको डिजिटल डिवाइस पर काम करने का अच्छा पैसा मिलता होगा लेकिन अगर सेहत एक बार चली जाएं तो फिर नहीं आती। वक्त आ गया है कि आप खुद को स्मार्टफोन्स से दूर रखने के लिए डिजिटल डिटॉक्स का सहारा लें। [ये भी पढ़ें: स्टमक एसिड क्या है और इसकी कमी को कैसे पहचाने]

फोन को दूसरी जगह छोड़ दें: कोशिश करें कि जब आप अपनों के साथ हो तो अपने फोन या टेबलेट को एयरप्लेन मोड पर कर दें या फिर दूसरे कमरे में रख दें। ऐसा करने से आप कुछ घंटों के लिए फोन से दूर रहे और थोड़े-थोड़े समय बाद आप फोन चेक कर सकते हैं ताकि कोई जरुरी संदेश या सूचना ना छूटे।

नोटिफिकेशन बंद कर दें: जब आपको लग रहा है कि आपको अपना ध्यान फोन से हटाने की जरुरत है तो अपने फोन के नोटिफिकेशन बंद कर दें ताकि आपको बार-बार आने वाले पिंग्स पर ध्यान ना देना पड़ें। जब आपका फोन बार बार बजेगा नहीं तो आपको मेंटल स्ट्रेस नहीं होगा और आप ज्यादा सहज महसूस करेंगे। [ये भी पढ़ें: भोजन करने के बाद कभी ना करें ये काम]

उठते ही फोन ना लें: अगर आपको सुबह उठकर सबसे पहले फोन हाथ में उठाने की आदत है तो इस आदत को दूर करने के लिए रात को सोने से पहले अपना फोन दूसरे कमरे मैं रखकर सोने जाएं। साथ ही अलार्म फोन में लगाने की जगह एक अलार्म घड़ी खरीद लें। उससे आपको फोन अपने पास रखकर नहीं सोना होगा।

काम के बीच में ब्रेक लें: जिस तरह आप अपने ऑफिस में मिड-डे पर लंच ब्रेक लेते हैं वैसे ही काम करते वक्त दिन में दो से तीन बार शॉर्ट ब्रेक लें। थोड़ी देर के लिए अपना सिस्टम बंद कर दें और फोन को डू नोट डिस्टर्ब मोड पर रखें। थोड़ी देर के लिए बाहर वॉक कर लें। इस दौरान आप दोस्तों से बात कर सकते हैं।

दिन में टेक-फ्री टाइम निश्चित करें: अपने दिनभर में कोई एक समय ऐसा बना लें जिसमें आपका समय सिर्फ आपका हो। इस समय में आप खुद को टेक-फ्री जोन में रखें। इस बात को गांठ बांध लें कि आप उस समय के दौरान आप किसी भी डिजिटल डिवाइस का इस्तेमाल नहीं करेंगे। इस समय को आप बाहर किसी पार्क में बिता सकते हैं, आप एक रिलैक्सिंग बाथ ले सकते हैं। ब्लूटूथ स्पीकर पर संगीत सुन सकते हैं। [ये भी पढ़ें: अगर चाहते हैं लंबे समय तक जीना तो छोड़ दें इन आदतों को]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "