हर परिस्थिति में तुरंत आत्म-विश्वास बढ़ाने के लिए आजमाएं आसान टिप्स

how to boost your self confidence

अगर लोगों के सामने मंच पर भाषण देने में आपको डर लगता है? आप फेल होने के डर से नई चीजों को करना छोड़ देते हैं ? आपको रोजाना ऑफिस या मीटिंग में जाते समय नर्वसनेस होती है? अगर हां,तो यह मत सोचिए कि आप अकेले इस चीज से परेशान है। यह परेशानी कई लोगों को होती है। लेकिन इस नर्वसनेस के कारण से आप अक्सर अनजान होते हैं। इस नर्वसनेस का कारण आपके अंदर आत्म-विश्वास की कमी होती है। लेकिन कभी-कभी इस कमी के कारण आपको बहुत परेशानियों का सामना करना पड़ता है। कई बार आप अचानक ऐसी परिस्थितियों से घिर जाते हैं जहां आपका कम आत्म-विश्वास आपको लोगों के सामने नीचा दिखा सकता है। इसलिए अपने आत्म-विश्वास को तेजी से बढ़ाने के लिए हम आपको बताने जा रहे हैं कुछ टिप्स।[ये भी पढ़ें: मानसिक स्वास्थ्य समस्याएं जो महिलाओं में आम होती हैं]

नर्वसनेस को नकारात्मक ना लें: अगर आप नर्वस है तो परेशान ना हो। किसी भी स्थिति से पहले नर्वस होना अच्छा होता है क्योंकि जब आप नर्वस होते हैं तो आपका शरीर सुरक्षात्मक मुद्रा में आ जाता है। ऐसे में हमारा दिमाग तुरंत रिएक्शन देता है। इसलिए अपनी नर्वसनेस को सकारात्मक लें।

यह समझें की आपको सुनने वाले आपके साथ है: यह समझें की आपको सुनने वाले लोग आपके साथ है, वे आपको और आपकी बातों को सुनना चाहते हैं तभी आप उनके सामने हैं और आपकी बातों पर ध्यान दे रहे हैं। इसे परिस्थिति का एक सकारात्मक पहलू मानें और खुलकर अपनी बातों को जाहिर करें।[ये भी पढ़ें: रात को सोते समय आपको हो सकती कुछ अजीबो-गरीब समस्याएं]

नकारात्मक विचारों को दिमाग में ना आने दें: विचारों का आपके शब्दों पर पूरा प्रभाव डालता है और कोई क्या सोच रहा है, लोग आप पर हंस रहे हैं इस तरह के नकारात्मक विचार आपके आत्म-विश्वास को खत्म कर सकते हैं। इसलिए दिमाग में नकारात्मक विचारों को बिल्कुल ना आने दें।

धीरे बोलें: यह सुनकर आपको अजीब लग रहा होगा लेकिन यह सबसे सरल उपाय है। जब आप धीरे-धीरे और आराम से बोलते हैं तो आपकी शब्दों पर पकड़ बनी रहती है। इससे आपकी बातों कि कड़ियां जुड़ी रहती है और आपको आगे क्या बोलना है आपको यह भी ध्यान रहता है जिससे आप अपना आत्म-विश्वास खोते नहीं हैं।

समाधान पर ध्यान दें: आपने क्या गलत किया है और आपसे क्या गलती हो गई है इस पर ध्यान ना दें। बल्कि इस बात पर गौर करें कि उसका तुरंत समाधान क्या है। अगर आप तुरंत समाधान पर ध्यान देते हैं तो आपके मन में नकारात्मक विचार नहीं आते और आपका आत्म-विश्वास बना रहता है। [ये भी पढ़ें: अपने दिमाग को अधिक सोचने से कैसे रोकें]

    उपयोग की शर्तें

    " यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "