Physical activity in children: शारीरिक सक्रियता बच्चे के परफॉर्मेंस को कैसे प्रभावित करती है

Read in English
Effects of physical activity on performance of a child

शारीरिक फिटनेस बच्चे को मानसिक रूप से मजबूत और स्वस्थ बनने में मदद करती है।

Physical activity in children: अक्सर माता-पिता यह समझने में नाकाम रहते हैं उनके बच्चे की एकेडमिक परफॉर्मेंस ना केवल उनके पढ़ने के समय पर निर्भर करती है बल्कि वो कितने सक्रिय हैं, इससे भी उनकी परफॉर्मेंस पर फर्क पड़ता है। बच्चे की परफॉर्मेंस उनकी सीखने की क्षमता, एकाग्रता, लगन, प्रयास आदि कई चीजों पर निर्भर करती है। बच्चे का बौद्धिक स्तर केवल इस बात पर निर्भर नहीं करता कि वह कितने मार्क्स स्कोर कर रहा है बल्कि बच्चे का दिमागी स्तर क्या है, यह भी जरुर है। बच्चे को हर क्षेत्र में बेहतर बनने के लिए शारीरिक गतिविधियां प्रमुख भूमिका निभाती हैं। ये शारीरिक स्वास्थ्य के साथ मानसिक क्षमता को भी बढ़ाती हैं। बच्चों के लिए शारीरिक गतिविधियां क्यों जरुरी है, आइए जानते हैं। [ये भी पढ़ें: शारीरिक रुप से स्वस्थ ना होने से कौन सी समस्याएं होती है]

Physical activity in children: बच्चों के लिए शारीरिक गतिविधियां क्यों महत्वपूर्ण हैं

  • बच्चों की परफॉर्मेंस को प्रभावित करने वाले कारक
  • बच्चों के लिए शारीरिक व्यायाम क्यों जरुरी है
  • बच्चों के दिमाग पर शारीरिक व्यायाम का प्रभाव

बच्चों की परफॉर्मेंस को प्रभावित करने वाले कारक
ऐसे कई कारक हैं जो जीवन के हर क्षेत्र में बच्चों के प्रदर्शन को प्रभावित करते हैं। एकेडमिक परफॉर्मेंस के बारे में बात करें तो बहुत सी चीजें आपके बच्चे के एकेडमिक परफॉर्मेंस को बेहतर करने के लिए जिम्मेदार होती हैं। माता-पिता और शिक्षकों का समर्थन बच्चे को एकेडमिक्स रुप से बेहतर समझ बनाने में मदद करता है। इतना ही नहीं, पर्यावरणीय कारक और परिस्थितियां भी बच्चे की सीखने की क्षमता को प्रभावित करती हैं। बच्चों के दोस्त और क्लास बैच भी उनके एकेडमिक परफॉर्मेंस को प्रभावित करता है। इसके अलावा, बच्चे की एकाग्रता और समर्पण भी महत्वपूर्ण हैं। [ये भी पढ़ें: गतिविधियां जो आपके मानसिक स्वास्थ्य को बेहतर करती हैं]

बच्चों के लिए शारीरिक व्यायाम क्यों जरुरी है

how Physically Active Kids Perform Better Academically
शारीरिक गतिविधि बच्चों को मानसिक रूप से मजबूत रहने और उनके अकादमिक प्रदर्शन में सुधार करने में मदद करती है।

बच्चों के लिए शारीरिक व्यायाम बेहद महत्वपूर्ण हैं। यह न केवल उन्हें शारीरिक रूप से सक्रिय रखता है बल्कि मानसिक रूप से मजबूत भी रखता है। बच्चों को शारीरिक व्यायाम से होने वाले कुछ फायदे यहां बताए गए हैं।

  • बेहतर फोकस
  • बेहतर याददाश्त
  • सकारात्मक रवैया
  • अच्छा मेटाबॉलिज्म
  • तरोताजा महसूस होना
  • शांतिपूर्ण दिमाग

बच्चों को अपने मानसिक स्वास्थ्य को बेहतर करने के लिए शारीरिक गतिविधियों में शामिल होना चाहिए। यह उनके विकास और उन्हें बेहतर एकेडमिक परफॉर्मेंस देने में मदद करता है। यह परफॉर्मेंस में सुधार करने और मस्तिष्क के स्वास्थ्य को बेहतर करने का आसान तरीका है। कोई भी बच्चा 24 घंटे नहीं पढ़ सकता है। उन्हें दिमाग को ताज़ा रखने और एकाग्रता के स्तर में सुधार करने के लिए ब्रेक की जरूरत होती है। इसलिए सभी माता-पिता को अपने बच्चों को फुटबॉल, बास्केटबॉल, स्विमिंग, वॉलीबॉल आदि खेलों में शामिल होने के लिए प्रेरित करना चाहिए। [ये भी पढ़ें: मानसिक स्वास्थ्य को बेहतर करने के लिए खाद्य पदार्थ]

बच्चों के दिमाग पर शारीरिक व्यायाम का प्रभाव

how physical activity affect performance of a child
शारीरिक गतिविधियों में शामिल होने से बच्चों की याददाश्त और एकाग्रता बढ़ती है।

शारीरिक व्यायाम बच्चों की समझ में सुधार करने और उनकी सोचने की क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है। यह उनकेमूड को अच्छा करता है और उनका फोकस बेहतर करने में मदद करता है। इससे बच्चों को रात में अच्छी नींद आती है जिससे वो तनाव का शिकार नहीं होते। इसके अलावा, शारीरिक गतिविधियों में शामिल होने से बच्चो के दिमाग में रक्त का प्रवाह बढ़ता है जिससे उनकी याददाश्त और एकाग्रता बेहतर होती है।

[जरुर पढ़ें: ब्रेन हैक्स जो क्रिएटिविटी, फोकस और आईक्यू को बढ़ाते हैं]

ये कुछ तरीके हैं जो बताते हैं कि शारीरिक गतिविधियां बच्चों को एकेडमिक रूप से बेहतर परफॉर्म करने और उनकी मानसिक क्षमता को बढ़ाने में मदद करती है। इस प्रकार, हर माता-पिता को अपने बच्चे को किसी प्रकार की शारीरिक गतिविधि में शामिल करना चाहिए। आप इस लेख को इंग्लिश में भी पढ़ सकते हैं।

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "