एंग्जायटी से उबरने के लिए इन आसान से उपायों का लें सहारा

Easy ways to deal with the problem of anxiety

एंग्जायटी एक प्रकार का मानसिक विकार है जिसमें व्यक्ति के भीतर बहुत ज्यादा डर की भावना उत्पन्न होने लगती है। इस तरह के मानसिक विकार के होने पर व्यक्ति के भीतर आत्मविश्वास की कमी देखने को मिलती है। वह किसी के सामने बोलने, अपनी बातों को जाहिर करने में बहुत ज्यादा हिचकता है। इन मानसिक विकार के होने पर कई तरह के उपचार का सहारा लिया जाता है। लेकिन कई ऐसे तरीके भी हैं जो इस समस्या से जूझ रहें व्यक्ति को ठीक होने में मदद करता है। आइए जानते हैं उन उपायों के बारें में। [ये भी पढ़ें: इनसोम्निया की समस्या को दूर करने के लिए अपनाएं ये उपाय]

समय-समय पर गहरी सांसे लें:
Easy ways to deal with the problem of anxietyशरीर में ऑक्सीजन का ठीक ढंग से पहुंचाना बहुत जरुरी होता है। इससे हमारे शरीर में ताजगी बनी रहती है और हमें मानसिक रूप से भी आराम मिलता है। एंग्जायटी के होने पर व्यक्ति मानसिक रूप से अस्थिर हो जाता है। ऐसे में गहरी सांसे लेना फायदेमंद माना जाता है। इस तरह के उपाय को दिन में 20 से 30 मिनट तक करना ज्यादा अच्छा बेहतर माना जाता है।

केमोमाइल का सेवन करें:
Easy ways to deal with the problem of anxietyकेमोमाइल का सेवन मानसिक स्वास्थ के लिए अच्छा माना जाता है। इसमें दो तरह के एंटी एंग्जायटी तत्व पाए जाते हैं- जेंक्शन और वेलियम यह एंग्जायटी को ठीक करने में काफी कारगर सिद्ध होते हैं। केमोमाइल का सबसे अच्छा स्रोत हरी चाय (ग्रीन टी) को माना जाता है। जो एक एंटी एंग्जायटी तत्व तो है ही साथ-साथ शरीर के लिए काफी अच्छा माना जाता है। इसका नियमित रूप से सेवन व्यक्ति को शारीरिक और मानसिक रूप दोनों के लिए फायदेमंद हैं। [ये पढ़ें: सोशल एंग्जायटी डिसऑर्डर कर सकता है आपको दोस्तों से दूर]

अपने भीतर उत्साह को जगाए रखें:
Easy ways to deal with the problem of anxietyइस तरह के मानसिक विकार के कारण व्यक्ति अपनी बातों को दूसरों के साथ रहने में बहुत ज्यादा घबराता है, इसके पीछे का कारण है व्यक्ति में आत्मविश्वास की कमी का होना। इस तरह के मानसिक विकार को ठीक करने के लिए मनोचिकत्सक जिस थेरेपी का सहारा लेते हैं उन्हीं में एक यह भी है कि इस तरह के विकार से पीड़ित व्यक्ति खुद के भीतर उत्साह को बनाये रखे और अपने आप को खुश रखे इससे व्यक्ति के भीतर सकारात्मक विचारों का प्रवाह होगा और आत्मविश्वास भी लौटेगा।

पूरी नींद लें:
Easy ways to deal with the problem of anxietyकई ऐसे मानसिक विकार पाए जाते हैं जिनके होने पर व्यक्ति रातों को ठीक से सो नहीं पाता है। जिसके कारण उनकी समस्या और ज्यादा बढ़ जाती है। एंग्जायटी भी उन्हीं में से एक है, इसके होने पर व्यक्ति रातों को पूरी नींद नहीं ले पाता। इसलिए ऐसे समय पर जरुरी है कि व्यक्ति पूरी नींद ले और उन उपायों को अपनाएं जिनसे उसे ठीक से नींद आ सके।

दोस्तों के साथ समय बिताएं और बातें करें:
Easy ways to deal with the problem of anxietyएंग्जायटी जैसे विकार होने पर व्यक्ति, बाकियों से अलग रहने रहने लगता है। लोगों के आगे बोलने में उसे बहुत ज्यादा झिझक होती है। इसलिए ऐसी परिस्थिति में जरुरी है कि अपने दोस्तों से बात करते रहे और अपने भीतर चल रही सभी भावनाओं को उसके साथ साझा करे। इससे धीरे-धीरे उनके भीतर खोया हुआ विश्वास जागने लगेगा। [ये भी पढ़ें: खुद को स्मार्टफोन से दूर रखने के लिए कैसे करें डिजिटल डिटॉक्स]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "