वृद्धावस्था में मानसिक अस्वस्थता, ये हो सकते हैं कारण

causes of mental health in old age

जैसे-जैसे उम्र बढ़ती जाती है उसके साथ-साथ हमारे   शरीर में कई तरह के बदलाव भी होने लगते हैं। यह बदलाव वृद्धावस्था के दौरान अधिक होते हैं। कुछ लोगों का ऐसा मानना होता है कि मानसिक अस्वस्था बढ़ती उम्र में एक आम बात है लेकिन इसे अलग तरीके से समझने की जरुरत होती है। कुछ लोगों को उनकी बढ़ती उम्र में मानसिक समस्याएं नहीं होती और अगर होती है तो वे उनका सामना कर सकते हैं। वहीं बहुत लोगों को वृद्धावस्था में मनोभ्रम और तनाव का विकार होता है लेकिन ऐसा नहीं कहा जा सकता है कि मानसिक समस्याएं बुढ़ापे का एक अनिवार्य पहलू है। तो आइए आपको वृद्धावस्था में होने वाली मानसिक अस्वस्थता के कारण बताते हैं।[ये भी पढ़ें: href=”//www.lifealth.com/hindi/mind-body-and-soul/mental-health/characteristics-of-mentally-strong-people-bk/17925/”>जानें वो कौन सी बाते हैं जो एक व्यक्ति को मानसिक रूप से मजबूत बनाती है]
1. रिटायरमेंट:
causes of mental health in old ageहर किसी के जीवन में यह समय आता है जब उसे अपने काम से हमेशा के लिए रिटायरमेंट लेना पड़ता है। यह समय बहुत ही भावुकता भरा माना जाता है जब एक व्यक्ति सालों के बाद अपने काम को छोड़कर हमेशा के लिए काम से मुक्त हो जाता है। धीरे-धीरे जब उस काम की और उन लोगों की कमी उस व्यक्ति को खलने लगती है तब यह बात मानसिक रूप से उस पर हावी होने लगती है। वहीं हर कोई व्यक्ति एक ही समय पर रिटायर होना नहीं चाहता। कुछ लोगों के लिये काम और उनका करियर भी उनकी जिंदगी का अहम हिस्सा होता है इसलिए रिटायर होना आपके निम्न पहलुओं को प्रभावित कर सकता है-
* आपकी जिंदगी के सामाजिक पहलू पर असर डालता है।
* आत्म-विश्वास और आत्म-सम्मान पर असर होता है।
* फाइनेंशियल सिक्यॉरिटी पर असर

2. तनाव:

causes of mental health in old ageएक उम्र के बाद जब व्यक्ति सभी प्रकार के कामों से मुक्त हो चुका होता है तब उसका तनाव की अवस्था में होना स्वाभाविक सा हो जाता है। खाली बैठे भी आप कई तरह की बातों को सोचने लगते हैं जो आपके दिमाग पर प्रभाव डालती हैं। तनाव कई कारणों से हो सकता है जैसे- रिटायर होना या बेरोजगार होना। जिन लोगों में तनाव होता है उन्हें मानसिक अस्वस्थता होने की संभावना भी अधिक होती है। [ये भी पढ़ें: कहीं आपकी चिंता का कारण एंग्जायटी डिसऑर्डर तो नहीं]

3. समय-समय पर बीमार होना:
causes of mental health in old ageयह वह अवस्था होती है जब व्यक्ति थोड़े-थोड़े समय पर बीमार होने लगता है और अक्सर वह दवाइयों का ही सेवन करते रहते हैं। जिसके कारण उसका स्वभाव चिडचिड़ा भी हो जाता है और वह छोटी से छोटी बात पर भी बहुत गुस्सा करने लगता है। इन सबके पीछे का कारण मानसिक अस्वस्थता हो सकती है।

4. एल्कोहल की आदत:
कई बार यह पाया गया है कि इस उम्र से जब सभी चीजों और सभी कामों से ध्यान हट जाता है तो उन लोगों का ध्यान एल्कोहल की तरफ चला जाता है। कुछ लोगों को इस दौरान एल्कोहल की लत लग जाती है जो उन्हें शारीरिक और मानसिक दोनों तरह से नुकसान पहुंचाती है। एल्कोहल के अधिक सेवन से धीरे-धीरे व्यक्ति के सोचने-समझने की क्षमता पर भी बुरा प्रभाव पड़ने लगता है। इसके कारण भी मानसिक अस्वस्थता हो सकती है।

5.लम्बे समय तक उदास या अकेले रहना:इस बात को ध्यान में रखें कि क्या कोई बुजुर्ग व्यक्ति ज्यादा समय से उदास तो नहीं है। अधिक उदासीनता और अकेलापन भी एक समय बाद मानसिक स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकता है। हमेशा सोचतें रहने से भी मानसिक अस्वस्थता होने की संभावना बनी रहती है। वृद्धावस्था में किसी भी व्यक्ति का मन बच्चे की भांति हो जाता है जिनसे अगर कोई साथ में बातें करने और समय बिताने के लिए ना मिलें तो वह उदास महसूस करने लगते हैं जिससे उनके व्यक्तित्व पर भी प्रभाव पड़ता है।[ये भी पढ़ें: खेल-खेल में करें अपने मानसिक स्वास्थ्य को दुरुस्त]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "