बहुत अधिक सोना हो सकता है खतरनाक जानिए क्यों

Bad things that happen when you sleep too much

Photo Credit: thebiblefactor.com

सोना सभी को पसंद होता है और सुबह जागते समय सभी के मन में एक ख्याल जरूर आता है कि काश थोड़ी देर और सोने को मिल जाता। सोना एक जरूरी प्रक्रिया है जिससे थकान दूर होती है और दिमाग का विकास होता है। लेकिन क्या आपको पता है कि बहुत अधिक सोना भी आपके लिए मुश्किल खड़ी कर सकता है? जी हां बहुत अधिक सोकर आप कुछ गंभीर बीमारियों को बुलावा दे देते हैं। आमतौर पर व्यक्ति को 7 से 8 घंटे की नींद लेनी चाहिए लेकिन अगर आप इससे ज्यादा सोते हैं तो आपके शरीर पर क्या नकारात्मक प्रभाव पड़ सकते हैं, आइए जानते हैं। [ये भी पढ़ें- कौन सी बातें व्यक्ति को मानसिक रूप से मजबूत बनाती हैं]

1. हृदय रोगों का खतरा बढ़ जाता है:
अगर आप रात को 7-8 घंटे से ज्यादा सोते हैं तो आपको हृदय रोग होने की संभावना बढ़ जाती है। ज्यादा सोने वाले लोगों में कोरोनरी हार्ट डिजीज, एंजीना जैसे हृदय रोग होने की आशंका होती है।। नेशनल हेल्थ एंड न्यूट्रीशन एक्जामिनेशन सर्वे के अनुसार अगर आप रात को 8 घंटे से ज्यादा सोते हैं तो कोरोनरी हार्ट डिजीज की संभावना को 10 प्रतिशत तक बढ़ा देता है।

2. वजन बढ़ सकता है:
बहुत अधिक सोने से आपका मोटापा बढ़ सकता है। नींद और वजन बढ़ने को लेकर किये गए एक सर्वे में यह पाया गया कि कम या ज्यादा सोने वाले लोगों में वजन बढ़ने की संभावना बढ़ जाती है। 9 घंटे से ज्यादा सोने वाले लोगों में नार्मल लोगों की तुलना में वजन बढ़ने की संभावना 21 प्रतिशत ज्यादा होती है। [ये भी पढ़ें- जानें दिन के समय सोना गलत या सही]

3. डायबिटीज का खतरा बढ़ जाता है:
बहुत अधिक सोने से आपके खून में शुगर का स्तर बढ़ सकता है जिससे आपको डायबिटीज होने की संभावना बढ़ जाती है। अगर आप बहुत अधिक सोते हैं तो आप मोटापे का शिकार हो सकते हैं यह भी डायबिटीज होने की संभावना को बढ़ा देता है।

4. दिमाग धीमा काम करता है:
सोना दिमाग के विकास के लिए जरूरी है लेकिन अगर जरूरत से ज्यादा सोते हैं तो यह आपके दिमाग को धीमा बना देता है। जिसकी वजह से आपको ध्यान केन्द्रित में भी दिक्कत होती है। अगर आप बहुत अधिक सोते हैं तो यह आपकी दिमागी आयु को भी बढ़ा देता है।

5. डिप्रेशन का शिकार बना सकते हैं:
बहुत अधिक सोना क्रोनिक डिप्रेशन का एक प्रमुख लक्षण है तो अगर आप बहुत अधिक सोते हैं तो यह आपको मानसिक रूप से भी प्रभावित कर सकता है। इसलिए अपने अधिक सोने की आदत को जितना जल्द हो सके बदल लें।  [ये भी पढ़ें- नींद में खुद को ऊंचाई से गिरता हुआ महसूस होना है हिप्निक जर्क]

    उपयोग की शर्तें

    " यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "