वॉकिंग मेडिटेशन से होने वाले स्वास्थ्य लाभ

Read in English
Health benefits of walking meditation

वॉकिंग मेडिकेशन पार्क में चलने से कई ज्यादा होता है। इस प्रकार का ध्यान आमतौर पर नियमित रूप से चलने की तुलना में बहुत धीमी गति से किया जाता है। इसके अलावा इस मेडिटेशन को करने में सांस एक अहम भूमिका निभाता है और यह विशिष्ट अभ्यास पर निर्भर करता है। बहुत से लोग सोचते हैं कि वॉकिंग मेडिटेशन सीडेट मेडिटेशन की तुलना में काफी आसान होता है क्योंकि वॉकिंग मेडिटेशन के दौरान आपकी आंखें खुली होती हैं और लोगों से थोड़ा संपर्क करना आसान होता है। इसके अलावा, अगर आप वॉकिंग मेडिटेशन के प्रत्येक चरण के बारे में अच्छे से जानते हैं तो यह आपकी एकाग्रता में भी सुधार लाता है। वॉकिंग मेडिटेशन आपके स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभकारी होते हैं और यह मेडिटेशन आपके शरीर को सक्रिय भी कर देता है। [ये भी पढ़ें: मेडिटेशन को अपनी दिनचर्या में कैसे शामिल करें]

शरीर को शांत और आराम पहुंचाना:
वॉकिंग मेडिटेशन आपको शांति और आराम प्रदान करता है। यह आपके ऑक्सीजन को बढ़ाता है और आपके शरीर को फिर से ऊर्जा उत्पन्न करने में मदद करता है। इसके अलावा, आप वॉकिंग मेडिटेशन के दौरान भी ओम का जप कर सकते हैं। जब आप वॉकिंग मेडिटेशन का अभ्यास करते हैं तो आपको खुशी और ताजगी महसूस होती है।

एकाग्रता में सुधार लाता है:
एकाग्रता में सुधार करने के लिए वॉकिंग मेडिटेशन बहुत फायदेमंद होता है। वॉकिंग मेडिटेशन के दौरान आपको अपने कदम और सांस पर ध्यान देना जरूरी होता है जो आपकी एकाग्रता को बहुत सुविधाजनक बनाने में मदद करता है। [ये भी पढ़ें: बुरे वक्त में खुद को संभालने के लिए चेतना कैसे मददगार है]

पाचन तंत्र में सुधार:
वॉकिंग मेडिटेशन पाचन तंत्र को स्वस्थ रखने में मदद करता है क्योंकि यह बॉवेल को साफ रखता है। वॉकिंग मेडिटेशन ना केवल आपके मन को रिलैक्स करता है बल्कि खाने के बाद आलस को भी कम करता है।

आपको अपने शरीर को जानने में मदद करता है:
मन और शरीर के बीच संबंध स्थापित करने के लिए वॉकिंग मेडिटेशन बहुत फायदेमंद होता है। यह आपको इस बात को जानने में मदद करता है कि चलने के दौरान आपके शरीर में क्या बदलाव आते हैं और किस तरह यह आपके शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करता है।

यह पर्यावरण के साथ आपको अधिक गहराई से जोड़ता है:
वॉकिंग मेडिटेशन आपको पर्यावरण के साथ जुड़ने में मदद करता है क्योंकि इससे आपके फेफड़ों में साफ हवा जाती है जो आपके लिए फायदेमंद होता है। इसके अलावा पर्यावरण से जुड़ाव होने के कारण आपकी जागरूकता भी बढ़ती है।

ऊर्जा मिलती है:
जब आप थका हुआ या सुस्त महसूस करते हैं तो वॉकिंग मेडिटेशन आपके लिए लाभकारी साबित हो सकता है क्योंकि यह आपकी मांसपेशियों को ताकत प्रदान करता है जिससे आपकी थकान दूर हो जाती है और आपको अधिक ऊर्जा मिलती है। यह आपके दिमाग को तरोताजा रखने में मदद करता है।

तनाव को कम करता है:
वॉकिंग मेडिटेशन आपकी भावनाओं और तनाव को नियंत्रित रखने में मदद करता है क्योंकि इसका अभ्यास करने से आपकी तंत्रिकाओं को राहत मिलती है और साथ ही आपके स्ट्रेस हॉर्मोन्स भी रीलिज होते हैं। [ये भी पढ़ें: थर्ड आई मेडिटेशन करने के तरीके और उसके लाभ]

 

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "