खुश रहने के लिए शिकायत करना बंद कर दें

you should stop complaining to be happy

Photo Credit: squarespace.com

कुछ लोगों को हर बात पर शिकायत करने की आदत होती है। वह छोटी-छोटी बातों को लेकर शिकायत करने लगते हैं। जिससे दिमाग में नकारात्मकता बढ़ने लगती है और व्यक्ति नकारात्मक रहने लगता है। यह शिकायतें आपको काम करने में भी दिक्कतें करती हैं। जिससे व्यक्ति को खुश रहने के कारण नहीं मिलते हैं और जीवन से खुशी कम हो जाती है। खुश रहने के लिए आपको शिकायत करना बंद कर देनी चाहिए। ऐसा करन में से आपको छोटी-छोटी चीजों में खुशी ढूंढने लगते हैं और आप सकारात्मक रहने लगते हैं। तो आइए आपको बताते हैं कि कैसे शिकायतें करना बंद कर देने से आपके लिए फायदेमंद होता है। [ये भी पढ़ें: अपने आपसे प्यार जताने के लिए अपनाएं कुछ आदतें]

आप लीडर बन सकते हैं: लोगों पर किसी भी चीज का इल्जाम डालना आसान होता है। ऐसा करने से आप खुद की जिम्मेदारी से दूर हट जाते हैं। जीवन में लीडर बनने के लिए आपको डर का सामना करना जरुरी होता है। साथ ही जिम्मेदारियों को संभालना होता है। जब आप आपके साथ होने वाली सभी चीजों की जिम्मेदारी लेने लगते हैं तो आप शिकायतें करना बंद कर देते हैं। इससे आपके जीवन में बदलाव आने लगते हैं। यह सारे बदलाव आपको लीडर बनने में मदद करते हैं।

आभारी रहते हैं: शिकायतें करना बंद करने के लिए आपको अपनी ब्लेसिंग को गिनना शुरु कर देना चाहिए। इससे आपको अपने खराब मूड को बेहतर बनाने में मदद करता है और आप खुश रहने लगते हैं। जब आप इन्हें गिनते हैं तो शिकायतें करना बंद कर देते हैं। जिससे सकारात्मक रहने में मदद मिलेगी। [ये भी पढ़ें: नए साल पर खुश रहने के लिए कुछ चीजें छोड़े और अपनाएं]

जीवन में बदलाव आते हैं: जब आप जीवन में पहले हुई चीजों को देखते हैं तो आपको एहसास होता है कि आपके साथ जो भी कुछ गलत हुआ वह आपकी शिकायत करने का नतीजा होता है और आपके लिए गए निर्णय का परिणाम होता है। जीवन में शिकायतें करके इसे खराब करने से बेहतर है खुश रहें। ऐसा करने आपके जीवन में कई बदलाव आने लगते हैं। जो आपके जीवन को सकारात्मक बनाते हैं।

दिमाग से नकारात्मकता दूर होती है: शिकायतें आपकी समस्या को ठीक नहीं कर सकते हैं। यह बस आपकी समस्या को बड़ा बना सकती है। जिससे दिमाग में नकारात्मक विचार आने लगते हैं। मगर जब आप शिकायत करना बंद कर देते हैं तो इससे नकारात्मक विचार आना बंद हो जाते हैं और आप खुश रहने लगते हैं। साथ ही आपको हर चीज में सकारात्मकता दिखने लगती है। [ये भी पढ़ें: सवाल जो आपको खुश रहने के लिए खुद से पूछने चाहिए]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "