इन तरीको से मापी जा सकती है ख़ुशी

ways to measure happiness

किसी के चेहरे पर मुस्कान, कोई खिलखिलाता चेहरा, किसी की चमकती हंसी इत्यादि ये दर्शाती है की वो व्यक्ति खुश है। ख़ुशी को मापने के लिए ये चीजे काफी होती है लेकिन ये ख़ुशी मापने का एक सामान्य और आम तरीका है। जब बात वैज्ञानिको और डॉक्टर की आती है तब ख़ुशी को मापने के तरीके थोड़े अलग हो जाते हैं। वैज्ञानिकों ने ख़ुशी को मापने के लिए कुछ चार तरीके इजाद किये हैं। आईये जानते हैं उन तरीकों के बारे में । [ये भी पढ़ें: खुद को प्यार करने में छुपा है खुशी का खजाना]

1. बायोलॉजिकल(जैविक): अगर शरीर में सेरोटोनीन नामक न्यूरोट्रांसमीटर की कमी हो तो व्यक्ति डिप्रेशन की समस्या से जूझता है वहीं अगर सेरोटोनिन की मात्रा नियंत्रित होती है तो व्यक्ति को ख़ुशी महसूस होती है। ये ख़ुशी को मापने के बायोलॉजिकल मार्कर हैं। ये मार्कर यह बताते हैं की व्यक्ति खुश है या नहीं। शोधकर्ता इन मार्कर के द्वारा लोगों के अन्दर सेरोटोनिन की मात्रा का पता लगाकर ख़ुशी को मापते हैं।

2. व्यवहारिक: शोधकर्ताओं के मुताबिक व्यक्ति के व्यवहार को मापदंड बनाते हुए व्यक्ति के ख़ुशी का पता लगाया है। हंसना, मुस्कुराना और दूसरे की मदद करना कुछ ऐसे व्यवहार हैं जो ख़ुशी को दर्शाते हैं। लोगो के अन्य व्यवहार जैसे नाचना, खिलखिलाना इत्यादि भी ख़ुशी को दर्शाते हैं तथा इससे किसी की ख़ुशी का अंदाजा लगाया जा सकता है। व्यक्ति के व्यवहार को बेहतर तरीके से विश्लेषण करके शोधकर्ता ख़ुशी को मापते हैं। [ये भी पढ़ें: खुश रहने के लिए अपने मन में गांठ बांध ले ये चार बातें]

3. किसी दुसरे व्यक्ति के जरिये: कोई बच्चा कितना खुश है इसका पता उनके माता-पिता को बेहतर ढंग से पता होता है। इसी तरह कई अन्य मामलों में ये जानने के लिए की कौन व्यक्ति कितना खुश है उसका पता हम किसी दुसरे व्यक्ति जरिये कर सकते हैं। आसपास के लोग जो किसी व्यक्ति के बहुत करीब होते हैं उनके द्वारा भी व्यक्ति के ख़ुशी को मापा जाता है।

4. खुद के आंकलन द्वारा: व्यक्ति की ख़ुशी का अंदाजा कभी-कभी उसके खुद के आंकलन द्वारा भी लगाया जा सकता है। शोधकर्ता ख़ुशी मापने के लिए लोगो को कई तरह के सवाल पूछते हैं उसने कई तरह के विवरण लेते हैं। उनसे इस बात की जानकारी लेते हैं की वो किस परिस्थिति किस स्थिति में कैसे रियेक्ट करते हैं क्या सोचते हैं। इन सवालों के जवाब जानकर शोधकर्ता लोगो की ख़ुशी मापते हैं। [ये भी पढ़ें: आपको खुशियों से मीलों दूर कर देता है इस तरह का व्यवहार]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "