अपने कल को खुशनुमा बनाने के लिए आज ही बदलें कुछ आदतें

things you should stop today to be more relexed tommorow

आपके आज का प्रभाव आपके कल पर पड़ता है। आपका समय, विचार, परिस्थितियां एक-दूसरे से जुड़ी हुई होती हैं। यहीं कारण है कि विचारों की निरंतरता बनी रहती है। इसलिए आज में जीना सीखें क्योकि अगर आपका आज बेहतर होता है तो आपका कल और भी अच्छा होगा। आज में खुद को खुश रखने और अपने कल को बेहतर बनाने के लिए आपको कुछ चीजें करना आवश्यक होता है। आइए जानते हैं कि अपने आज को कैसे बेहतर बनाएं और कौन सी वे चीज हैं जिन्हें ना करके हम अपने कल को बेहतर बना सकते हैं। [ये भी पढ़ें: थोड़ा सा स्वार्थी होना कैसे आपको खुश रख सकता है]

1.अपने मन की बात अनसुनी ना करें: हर दिन खुद की तरक्की के लिए कुछ करना बेहतर होता है लेकिन इस चीज को अपने तनाव का कारण ना बनने दें। अपने मन को खुश रखें। जिस वक्त जो करने का मन कर रहा है वहीं करें। इससे आपका आज अच्छा होता है और कल आसान हो जाता है।

2.समय बर्बाद ना करें: रुचि भी ऐसी होनी चाहिए जिससे आपको तनाव ना हों। टीवी सीरीयल के अगले एपिसोड में क्या होने वाला है आदि जैसी चीजें सोचने से आपको बेकार का तनाव हो सकता है। इसलिए ऐसी एक्टिविटी करें जिससे आपको व्यर्थ का तनाव ना हों और आपको कुछ नया सीखने को मिले जो कि आपके कल को बेहतर बनाएगा। [ये भी पढ़ें: नाखुश लोग किन चीजों में खुशी ढूंढते हैं]

3.अपने लुक्स को लेकर परेशान ना हों: फिगर और बॉडी का फिट होना सबको पसंद होता है लेकिन अपने लु्क्स को लेकर परेशान होना बंद करें। यह चीज एक दिन में बदलने वाली नहीं होती लेकिन आपको व्यर्थ का तनाव जरुर दे देती है। खुद को उन लोगों की नजरों से देखें जो आपको हर रुप में पसंद करते हैं। ऐसा करने से आपका कल और आज दोनों बेहतर बनते हैं और आपका मन खुश रहता है।

4.कल को आज पर और आज को कल पर हावी ना होने दें: कल के कड़वे अनुभव आपके आज और आने वाले कल को बुरा बना सकते हैं। इसलिए चीजों को अपने ऊपर हावी होने देने की बजाय बुरी यादों और अनुभवों को उसी दिन के साथ बीत जाने दें। ऐसा करने से आज और आने वाला कल बेहतर होता है।

5.दूसरों को खुश करने के लिए खुद को परेशान ना करें: जिम्मेदार होना आपकी खूबी है लेकिन अक्सर लोगों का काम खुद पर लेने से वे आपको रोजाना काम थमाने लगते हैं और रोजाना अपने ऊपर जरुरत से ज्यादा काम और जिम्मेदारियों का बोझ आपको तनाव का शिकार बना देता है। इसलिए खुद को जरुरत से ज्यादा काम के बोझ के नीचे ना दबने दें। [ये भी पढ़ें: केवल जीने के बजाय जिंदगी को कैसे बेहतर बनाना सीखें]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "