ख़ुश रहने के पीछे छुपे हैं कई स्वास्थ्य लाभ

How does a happy state keep you healthy

खुश रहना न केवल मानसिक बल्कि शारीरिक स्वास्थ्य के लिए बहुत जरुरी माना जाता है। जब हमारे शरीर में कुछ खास तरह के हार्मोन्स एंडोर्फिन्स, सेरोटोनिन, डोपामाइन और ऑक्सीटोसिन का स्राव होता है तब हमारा मन-मस्तिष्क भीतर से खुश रहता है। किसी भी व्यक्ति का शरीर में इन हार्मोन्स को बनायें रखना बेहद जरुरी होता है। कई तरह के शोधों में यह पाया गया है कि खुश रहने से व्यक्ति को बहुत से फायदे होते हैं। आइए जानते हैं खुश रहने के पीछे और क्या-क्या स्वास्थ्य संबंधित लाभ होते हैं। [ये भी पढ़ें- आखिर मिल गया खुशहाल लोगों की जिंदगी जीने का राज]

हृदय रोगों से रखता है स्वस्थ:
How does a happy state keep you healthyएक शोध के अनुसार कोई भी व्यक्ति अगर एक दिन में ज्यादा से ज्यादा समय खुद को खुश रखता है, तो उससे व्यक्ति का हृदय स्वस्थ तो रहता ही साथ-साथ उसका ब्लड प्रेशर भी सामान्य रहता है। यह भी माना गया है कि हृदय संबंधित रोगों के खतरे को कम करने का काम भी हम खुश रहकर कर सकते हैं।

इम्यून सिस्टम को और ज्यादा मजबूत बनाता है:
अपने भीतर सकारात्मक सोच लाने से आप अपने शरीर को बेहतर रूप से स्वस्थ रख सकते है। जो व्यक्ति ज्यादा सकारात्मक होता है वह उतना ही खुश भी होता है। जो हमें भावनात्मक रूप से स्वस्थ तो रखता ही साथ ही साथ हमारे शरीर के इम्यून सिस्टम को और भी ज्यादा मजबूत करता है। जिसके कारण शरीर रोग मुक्त रहता है। [ये भी पढ़ें:इन तरीकों से आप किसी भी परिस्थिति में रह सकते हैं खुश]

तनाव को कम रखता:
How does a happy state keep you healthyतनाव एक मानसिक विकार है, जिसके कारण व्यक्ति बहुत ज्यादा निशारावादी और नकारात्मक हो जाता है। यह न केवल एक मनोवैज्ञानिक परिवर्तन का कारण है बल्कि यह मस्तिष्क में होने वाले रासायनिक उतार-चढ़ाव की समस्या के कारण होने वाले हार्मोन के स्राव के कारण भी होता है। इस तरह की समस्या से निपटने के लिए जरुरी है कि इससे ग्रसित व्यक्ति स्वयं के भीतर सकारात्मक भाव उत्पन्न करे और खुश रहे। जिसके कारण तनाव के दौरान निकलने वाले हार्मोन्स का स्राव नहीं होता है।

कई रोगों से बचाता है:
जब भी आप खुश होते हैं तो शरीर की कई सारी मांसपेशियां मूव करने लगती है जो कि हमारे इम्यून सिस्टम के लिए काफी फायदेमंद होती है। इससे शरीर से कई तरह के रोगों की दूरी बनी रहती है। मानसिक रूप से होने वाले विकारों को ठीक करने के लिए मनोचिकत्सक पीड़ित व्यक्ति को खुश रहने और सकरात्मक सोच लाने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है।

खुश रहने से उम्र बढ़ती है:
How does a happy state keep you healthyखुश रहने से व्यक्ति के जीवनकाल में वृद्धि नहीं होती है लेकिन यह हमें कई घातक रोगों से बचाने का काम करता है जिसके कारण हमारा शरीर लंबे समय तक फिट रहता है। जैसा की ऊपर भी बताया गया है कि जो व्यक्ति हमेशा खुश रहता है वह शारीरिक और मानसिक रूप से तंदरुस्त रहता है। इसलिए हम सभी को हमेशा खुश रहना चाहिए। [ये भी पढ़ें: इन तरीकों से रोजाना अपने दिन को बनायें खुशनुमा]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "