Nutrient Deficiency: शरीर में कौन से तत्वों की कमी के कारण डिप्रेशन की समस्या होती है

Read in English
Nutritional Deficiencies That Cause Depression

Nutrient Deficiency: डिप्रेशन की समस्या एक गंभीर समस्या है

Nutrient Deficiency: डिप्रेशन एक मानसिक समस्या है और यह समस्या हर उम्र के लोगों को हो सकती है। इस समस्या से ग्रसित लोग भावनात्मक रूप से कमजोर होते हैं। कई लोगों को यह समस्या अधिक चिंता या तनाव के कारण हो जाती है या फिर अनुवांशिकता की वजह से भी होती है। इस समस्या से निजात पाने के लिए अक्सर लोग दवाइयों का सेवन करते हैं, लेकिन कई लोगों को इन दवाइयों से नुकसान पहुंचते हैं। चिंता और तनाव के अलावा शरीर में कुछ पोषक तत्वों की कमी के कारण भी डिप्रेशन की समस्या हो जाती है। कई लोगों को इसके बारे में सही तरह से जानकारी नहीं होती है और इस वजह से वो इसका इलाज नहीं कर पाते हैं। ऐसे में लोगों को अधिक पोषक तत्वों वाले फलों और सब्जियों का सेवन करने की जरूरत है ताकि इस समस्या से छुटकारा पा सकें। [ये भी पढ़ें: डिप्रेशन के कारण कैसे आपकी याददाश्त प्रभावित होती है]

Nutrient Deficiency: किन पोषक तत्वों की कमी के कारण डिप्रेशन की समस्या होती है:

  • ओमेगा-3 फैटी एसिड
  • आयोडीन
  • मैग्निशियम
  • सेलेनियम
  • आयरन

ओमेगा-3 फैटी एसिड:
शरीर में ओमेगा-3 फैटी एसिड की कमी के लिए मानसिक स्वास्थ्य प्रभावित होता है और मष्तिष्क में कई समस्याएं भी हो जाती हैं जैसी- तनाव, चिंता और डिप्रेशन। ऐसे में आपको मछली और फ्लैक्स सीड ऑयल का सेवन करना चाहिए।

आयोडीन:

Iodine deficiency can cause depression
Nutrient Deficiency: आयोडीन की कमी के कारण डिप्रेशन होता है

आयोडीन थायरॉयड को सही तरीके से काम करने में मदद करता है। थायरॉयड एंडोक्राइन सिस्टम का एक हिस्सा है जो शरीर का एक महत्वपूर्ण ग्लैंड होता है थायरॉयड ग्लैंड शरीर के इम्यून सिस्टम, तापमान और दिमाग के कार्यो को प्रभावित करता है। ऐसे में आयोडिन की कमी को दूर करने के लिए आलू, केल्प, अंडा, ब्रोकली और क्रैनबेरी का सेवन करना चाहिए। [ये भी पढ़ें: आयोडीन से भरपूर खाद्य पदार्थ जो सेहत के लिए लाभकारी होते हैं]

मैग्निशियम:
मैग्निशियम डिप्रेशन के दौरान शरीर के लिए एक प्रकार से एंटी डोट की तरह काम करता है। ऐसे में यदि शरीर में इसकी कमी होती है तो आपकी डिप्रेशन की समस्या गंभीर हो सकती है। ऐसे में आपको पालक, नट्स, दाल और साबुत अनाज की सेवन करनी चाहिए।

सेलेनियम:
सेलेनियम एक मिनरल है जिनमें उच्च मात्रा में एंटीऑरक्सीडेंट होता है। यह बेहतर मानसिक स्वास्थ्य के लिए आवश्यक होता है। सेलेनियम मेटाबॉलिज्म को बूस्ट करता है और थायरॉयड को सही तरीके से कार्य करने में मदद करता है। ऐसे में आपको अखरोट, चिकन और मछली खाना चाहिए।

आयरन:
शरीर में आयरन की कमी की वजह से थकान, चिड़चिड़ाहट और अनिमिया की समस्या होती है और ये डिप्रेशन के लक्षण होते हैं। इसलिए शरीर में आयरन की कमी को दूर करने के लिए रेड मीट और मछली का सेवन करें।

[जरूर पढ़ें: खाद्य पदार्थ जो डिप्रेशन से आपको दूर रखने में मदद करते हैं]

तनाव, चिंता और डिप्रेशन शरीर में कुछ पोषक तत्वों की कमी के कारण होता है। ऐसे में आपको उन जरूरी तत्वों की जानकारी जरूर होनी चाहिए, ताकि आप इस समस्या से बच सकें।

 

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "