क्या डिप्रेशन की समस्या जेनेटिक होती है

Is Depression Genetic

डिप्रेशन एक मानसिक समस्या है जिसमें व्यक्ति के दिमाग पर नकारात्मक ख्याल हावी हो जाते हैं। डिप्रेशन के उपचार के लिए लंबी कांउसलिंग प्रक्रिया से गुजरना पड़ता है। मेडिकल के रिसर्च से डिप्रेशन के बारे में रोज नये तथ्यों की जानकारी मिल रही है, जिससे साबित होता है कि डिप्रेशन की बीमारी संक्रामक भी होती है यानि ये बीमारी एक से दूसरे लोगों मे भी फैलती है। लेकिन एक सवाल ये भी उठता है कि क्या डिप्रेशन जेनेटिक(आनुवांशिक) भी है। आइए जानते हैं कि डिप्रेशन जेनेटिक है या नहीं? [ये भी पढ़ें:डिप्रेशन के उपचार के लिए करें इन नॉन ड्रग थैरेपी का इस्तेमाल]

जीन के माध्यम से डिप्रेशन का संचरण: डिप्रेशन जेनेटिक होता है डिप्रेशन के जीन 3p25-26 माता- पिता, भाई-बहन से एक-दूसरे में संचरित होते हैं। वैज्ञानिकों का भी मानना है कि 40 प्रतिशत डिप्रेशन के रोगियों में समस्या माता-पिता के जीन से संचरित हो कर आती है। जबकि 60 प्रतिशत रोगी इसे आसपास की परिस्थितियों की वजह से पीड़ित होते हैं।

इसलिए कहा जा सकता है कि माता- पिता में से किसी को भी डिप्रेशन की बीमारी हो तो बच्चों में डिप्रेशन होने की संभावना 5 गुना बढ़ जाती है। [ये भी पढ़ें:क्या एक व्यक्ति से दूसरे को हो सकती है डिप्रेशन की समस्या और इससे कैसे बचें]

सेरोटोनिन लिंक: सेरोटिन एक ‘फिल गुड’ केमिकल होता है जो की दिमाग और न्यूरोन के बीच तालमेल को बना कर रखता है। सेरोटोनिन के बैलेंस ना होने के कारण मूड डिसऑर्डर की समस्या हो सकती है। सेरोटोनिन का संबंध भी जेनेटिक होता है। यह भी माता-पिता से बच्चों में आता है। यदि माता-पिता में इस केमिकल स्त्राव की कमी होती है तो बच्चों में भी यहीं कमी रह सकती है, जिससे बच्चों को भी मूड डिसऑर्डर जैसी समस्या हो सकती है।

अन्य कारक: यदि कोई बच्चा ऐसे लोगों के साथ परिवार में रहता है जो डिप्रेशन का शिकार हो या कोई भी व्यक्ति ऐसे लोगों के साथ रहता है, जो पहले से ही डिप्रेशन का शिकार हो तो ऐसे लोगों में डिप्रेशन का खतरा बढ़ जाता है। जेंडर भी इसमें एक कारण हो सकता है माना जाता है कि महिलाओं में जेनेटिक डिप्रेशन की संभावना 42 प्रतिशत होती है जबकि पुरुषों में इसकी संभावना 29 प्रतिशत तक होती है।[ये भी पढ़ें: इन आदतों से पता लगाएं कि व्यक्ति डिप्रेशन से पीड़ित है]

    उपयोग की शर्तें

    " यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "