यौन संचारित रोगों से जुड़ी जानने योग्य बातें

things to know about sexually transmitted disease

photo credit- medscape.com

यौन संचारित रोगों के कारण भारत में प्राभावित होने वाले लोगों की संख्या दिन पर दिन बढ़ते जा रही है, आज भी सालाना तौर पर इन बीमारियों से संचारित लोगों की संख्या लाखों में हैं, इसके पीछे का सबसे बड़ा कारण जो निकल कर आया वो ये है कि लोगों को इन बीमारियों के बारें में पूरी और सही जानकारी नहीं है। साथ ही जिन लोगों को इस बीमारी की शिकायत होती है वह इसका इलाज ठीक से नहीं करवातें हैं जिसकी वजह से उनके माध्यम से यह बीमारी अन्य लोगों को भी होने की आशंका होती है। लोग इन बीमारियों के साथ डॉक्टर के पास तो आते है लेकिन उनसे सवाल नहीं करते है जिसकी वजह बहुत सी इन बीमारियों को लेकर बहुत सी बाते अनकही रह जाती, जिनके बारें में जानना बहुत जरुरी होता है। आइए जानते है उन सवालों के बारें में जो सीधे तौर पर यौन संचारित रोगों से जुड़े हुए हैं।

जो सुरक्षित सेक्स नहीं करते है उन्हें इन बीमारियों के बारें में कब तक मालूम चलता है? इसका सही जवाब यह है कि इसके बारे में आपको एकदम से मालूम नहीं होता, समय के साथ-साथ इसके लक्षण देखने को मिलते है और साथ ही साथ इस बात को निश्चित नहीं किया जा सकता है कि इन लक्षणों के बारें में आपको पता कब तक चलेगा। इसमें एक सप्ताह से लेकर एक साल तक लग सकता है। [ये भी पढ़ें: जानिए पेल्विक इंफ्लेमेटरी डिजीज(श्रोणी में सूजन की बीमारी) के बारे में] 

क्या जिसे हर्पीस होता है उसके बारें उसे पहले से बिल्कुल भी मालूम नहीं होता है? ऐसे बहुत से लोग होते है जिन्हें सेक्स से पहले इस बात के बारें बिल्कुल भी मालूम नहीं होता है कि उन्हें हर्पीस जैसा कोई यौन संचारित रोग है। उन्हें इसके बारें में तब मालूम होता है जब उनके साथी को भी सेक्स के बाद यह बीमारी हो जाती है, कुछ लोग झूठ भी बोलते हैं लेकिन बहुत से लोगों को इसके बारें में सच में नहीं मालूम होता है, क्योंकि इसके लक्षण बहुत जल्दी से पता नहीं चलते है और ना ही डॉक्टर भी इस बात को पता कर पाते हैं।

अगर कोई बिना कंडोम के सेक्स करता है तो क्या ऐसा संभव है कि अगली बार कंडोम के साथ सेक्स करने पर वह इन रोगों से बच सकता है?
things to know about sexually transmitted disease अगर आप किसी के साथ बिना कंडोम के सेक्स करते हैं और वह व्यक्ति संक्रमित है तो ज्यादा संभावना है कि आप भी इस बीमारी से संक्रमित हैं। अगर आप बच जाते हैं तो आपको आगे से इस बात का ध्यान रखना है कि आप बिना प्रोटेक्शन के सेक्स न करें जिससे आपको इस तरह की बीमारी न हो।

क्या पेशाब के साथ वीर्य का आना गोनोरिया के ही लक्षण हैं? इस तरह की कोई भी समस्या हो तो इसका एकमात्र कारण है कि आपको यौन संचारित रोग है, मगर इसके लिए कोई चिंता की बात नहीं है इसका सही समय पर पता लग जाने के बाद सबसे पहले अपने डॉक्टर के पास जाये और साथ ही साथ अपने पेशाब का एक नमूना भी ले जाए जिससे की इसकी जांच कर इस बात की पुष्टि की जा सके।

क्या अगर किसी एक को भी यह बीमारी है तो उसे अपने साथी को बताना ठीक रहेगा? यह सबसे अच्छी बात है कि अगर किसी भी व्यक्ति को इस बीमारी की शिकायत है या वो इस तरह की किसी बीमारी से प्रभावित है तो सम्बन्ध बनाने से पहले उसे अपने साथी को इस बारें में बताना जरुरी है। ताकि आपका साथी इस बीमारी से अवगत हो जाए और सुरक्षित रूप से सम्बन्ध बनायें। इन सब बातों को आप सबसे पहले बता दे जो बहुत ज्यादा जरुरी है।

पुरुषों में एच.पी.वी. टेस्ट नहीं होता है इसका मतलब यह हुआ कि उनको इस बीमारी से कोई खतरा नहीं होता है?
things to know about sexually transmitted disease हालांकि पुरुषों में सर्वाइकल कैंसर नहीं होता है लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि उन्हें एच.पी.वी से कोई खतरा नहीं है। उन्हें इससे यौन संचारित कैंसर होने का खतरा रहता है और साथ पुरुषों को जेनाइटल वार्ट्स का भी खतरा रहता है। [ये भी पढ़ें: यौन संचारित रोगों के ये मिथक करते हैं आपको गुमराह] 

अगर किसी को ये बीमारी है तो इसके बारें में उसे मालूम होगा? जरुरी नहीं है कि यह बीमारी सिर्फ और सिर्फ यौन संबंध बनाने की वजह से ही हो। इसके अन्य कारण भी हो सकते है क्योंकि इनमें कई ऐसी बीमारी है जो यौन सम्बन्ध बनाने के आलावा भी अन्य कारणों से होते हैं, यह संक्रमित खून से, इंजेक्शन के माध्यम से या कई बार संक्रमित व्यक्ति के टच से भी हो जाती हैं। इसलिए अगर आपको यह बीमारी है तो डॉक्टर से इसके बारें में सलाह करें।

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "