जानें यौन संचारित रोग ट्रिकोमोनियासिस कैसे फैलता है

Read in English
know more about the symptoms and cause of trichomoniasis

photo credit- lifeline.de

ट्रिकोमोनियासिस एक यौन संचारित रोग (एसटीडी) है जो ट्रीकोमोनास वाजीनालिस (trichomonas vaginalis)नामक एक छोटे जीव की वजह से होता है| ज्यादातर यह बीमारी महिलाओं में पाई जाती है। पुरुषों में यह तब होता है जब वह यौन संबंध बनाते हैं। ट्रिकोमोनियासिस एक यौन संचारित संक्रमण (एसटीआई) है जो योनि ऐनल और ओरल सेक्स करने से फैलता है| 70 प्रतिशत पुरुषों और महिलाओं को ट्रीकोमोनियासिस के लक्षणों का पता नहीं चलता है। दुनिया में 2.7 प्रतिशत महिलाओं को 1.4 प्रतिशत पुरुषों में यह बीमारी पाई जाती है। इस बीमारी का लक्षण 5 से 28 दिन के अंदर दिखने लगते हैं। [ये भी पढ़ें: इन आसान घरेलू उपायों से दूर करें जेनाइटल वार्ट्स को] 

अपनी योनि स्राव में मॉनिटर करें:ट्रिकोमोनियासिस के दौरान हरा, पीला और झागदार योनि स्राव आने लगता है और तेज बदबू भी आने लगती है। कुछ महिलाओं के लिए योनि श्राव होना सामान्य बात होती है और यह दूधिया रंग का दिखता है। योनि संभोग के दौरान अगर योनि श्राव अधिक मात्रा में होता है तो इसके बीमारी होने की संभावना बढ़ जाती है। बिना यौन संबंध के हल्के गीले कपड़े पहनने से या फिर गंदे टॉयलेट का इस्तेमाल करने से भी यह बीमारी होती है।

असामान्य जननांग के लक्षण:ट्रिकोमोनियासिस संक्रमित लोगों के जननांग या उसके आस-पास लालिमा, जलन, खुजली और उत्तेजना पैदा होने लगती है। ये लक्षण ट्रिकोमोनियासिस संक्रमण या अन्य एसटीआई का भी संकेत होते हैं। इसमें योनि और वलवर के अंदर खुजली और जलन होने लगती है। अगर योनि में खुजली कुछ समय के लिए हो और ट्रीटमेंट से ठीक हो जाए तो यह बहुत सामान्य बात होती है। [ये भी पढ़ें: जाने कैसे थायरॉइड की समस्या यौन रोग से जुड़ी है]

संभोग के दौरान दर्द या पेशाब में जलन होने को अनदेखा ना करें:ट्रिकोमोनियासिस के कारण संभोग के दौरान जलन और दर्द पैदा हो सकती है। अगर आपको ऐसा कुछ महसूस होता है तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें और जब तक एसटीडी की जांच ना हो जाएं किसी तरह के संभोग का हिस्सा ना बने। ऐनल और ओरल सेक्स करना भी आपके लिए खतरा बन सकता है। इसके लिए आपको अपने पार्टनर को भी एसटीडी की जांच करने के लिए बोलना चाहिए।

पहचाने कब आपको एसटीआई / एसटीडी का खतरा हो सकता है:

  • अगर आप एक नए साथी के साथ असुरक्षित यौन संबंध बनाते हैं।
  • अगर आप या आपके साथी अन्य लोगों के साथ असुरक्षित यौन संबंध बनाते हैं।
  • अगर आपका पार्टनर आपको अपने यौन संचारित रोग के बारे में बताता है।
  • आप गर्भवती हैं या गर्भवती होने की उम्मीद करती हैं।

डॉक्टर द्वारा निर्धारित एंटीबायोटिक दवाइयों का सेवन करें:
सारी जांच करने के बाद आपका डॉक्टर जिन दवाइयों के सेवन के लिए कहे उनका सेवन जरूरी करें। बहुत से ऐसे एंटीबायोटिक होते हैं जो बैक्टीरिया और प्रोटोजोआ के विकास को रोक देते हैे। इस दवा का दुष्प्रभाव चक्कर आना, सिर दर्द, दस्त, उल्टी, पेट में दर्द, भूख न लगना, कब्ज, स्वाद में परिवर्तन और मुंह का शुष्क होना होता है| इस बीमारी के दौरान आपके पेशाब का रंग गहरा हो जाता है। ध्यान रहे की आप अपने डॉक्टर को बताए की आप प्रेग्नेंट हैं या प्रेग्नेंसी प्लान कर रहे हैं।

यौन स्वास्थ्य की सुनिश्चित जांच करवाएं:
रूटीन चेक-अप करना बहुत ज़रूरी होता है भले ही आपको ना लगे कि आप किसी भी एसटीआई से ग्रसित हैं। ट्रिकोमोनियासिस से संक्रमित व्यक्तियों में केवल 30 प्रतिशत लक्षण दिखाई देते हैं और 70 प्रतिशत केस में इसके लक्षण पता ही नहीं चलते हैं। [ये भी पढ़ें: ये घरेलू तरीकें दिलाएंगे गोनोरिया की समस्या से निजात] 

सुरक्षित यौन संबंध बनाए:कोशिश करें यौन संबंध बनाते समय लैटेक्स कंडोम का प्रयोग करें ऐसे करने से आप एसटीडी से बचे पाएंगे। सेक्स टॉय का इस्तेमाल ना करें और अगर आप इस्तेमाल करते हैं तो उसे अच्छी तरह धो लें या फिर नए कंडोम से उसे कवर कर लें।

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "