वेजाइनल इचिंग के क्या कारण हो सकते हैं

Read in English
what are the cause of vaginal Itching

वेजाइनल इचिंग के कारण बहुत असहज महसूस होती है और साथ ही यह एक बहुत सामान्य समस्या भी है। वेजाइनल इचिंग के कारण सूजन और जलन की समस्या भी हो सकती है। इसके बहुत से ऐसे कारण होते हैं जिसे मेडिकल ट्रीटमेंट की जरूरत होती है। इसकी वजह से वेजाइनल इंफेक्शन भी हो सकती है। इस इंफेक्शन से बचने के लिए क्रीम, रेजर, टॉयपेपर के इस्तेमाल से परहेज करें। पैड्स, टैंपून्स, रेजर, पसीना या फेमिनीन डियोड्रेन्ट्स के कारण भी यह समस्या उत्पन्न होती है। इसके अलावा इसके और भी कई अन्य कारण होते हैं। [ये भी पढ़ें: प्रेग्नेंसी के अलावा पीरियड्स लेट होने के और क्या कारण हो सकते हैं]

यीस्ट इंफेक्शन: बहुत सी महिलाओं को वेजाइनल इंफेक्शन की समस्या होती है। वेजाइना में यीस्ट और बैक्टीरिया हो जाने के कारण वेजाइनल इंफेक्शन हो जाता है। इससे खुजली की समस्या होने लगती है। अगर वेजाइना के बैक्टीरिया को सही समय पर नियंत्रित नहीं किया जाएगा तो यीस्ट इंफेक्शन होने की संभावनाएं बढ़ जाएगी। यीस्ट इंफेक्शन को एंटीफंगल मेडिकेशन की मदद से ठीक किया जा सकता है।

बैक्टीरियल वेजीनोसिस: बैक्टीरियल वेजीनोसिस वेजाइनल इंफेक्शन होने का एक सबसे प्रमुख कारण होता है और यह स्वस्थ बैक्टीरिया में असंतुलन और योनि पीएच में परिवर्तन के कारण होता है। यह भी यीस्ट इंफेक्शन की तरह ही होता है, लेकिन इसमें जो डिस्चार्ज होता है वो उसका बहाव पानी की तरह होता है और उसमें दुर्गंध भी होती है। [ये भी पढ़ें: इनफर्टिलिटी के उपचार के दौरान ध्यान में रखें ये बातें]

यौन संचारित रोग: किसी यौग संचारित रोग से ग्रसित व्यक्ति के साथ यौन संबंध बनाने से भी वेजाइनल इंफेक्शन होता है। यौन संबंध बनाते वक्त वेजाइना के पास क्रैब या प्यूबिक लाइस जमा हो जाता है जिसके कारण वेजाइनल इंफेक्शन हो जाता है। ये उस हिस्से में खुजली का भी कारण बनते हैं। एंटीबायोटिक और एंटीपैरासाइटिक मेडिकेशन से इस समस्या को नियंत्रित किया जा सकता है।

हार्मोन की वजह से: पीरियड्स, प्रेग्नेंसी, मेनोपॉज या फिर बर्थ कंट्रोल पिल्स की वजह से हार्मोन में बदलाव आ सकता है जिसके कारण भी वेजाइनल इचिंग की समस्या उत्पन्न होती है। हार्मोन में बदलाव आने की वजह से वेजाइना में सूखापन आ जाता है, जिसके कारण कभी-कभी दर्द या सूजन भी महसूस होती है। [ये भी पढ़ें: महिलाओं की फर्टीलिटी की समस्या में कारगर है अश्वगंधा]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "