प्रेग्नेंसी के अलावा पीरियड्स लेट होने के और क्या कारण हो सकते हैं

reasons behind your late period other than pregnancy

अक्सर पीरियड्स मिस होने पर महिलाओं को गर्भवती होने की आशंका हो जाती है, लेकिन ऐसा नहीं है। यदि आप गर्भधारण करने की कोशिश कर रहे हैं, तो पीरियड्स का मिस होना आपको उत्साह और अविश्वास की भावना महसूस करा सकता है। यदि आप गर्भधारण नहीं करना चाहते हैं, तो पीरियड्स के मिस होने से आपको डर या निराशा महसूस हो सकती है। प्रेग्नेंसी के अलावा पीरियड्स मिस होने के अनेकों कारण हो सकते हैं जैसे तनाव या मेनोपौज। आइए इसके अन्य कारण के बारे में जानते हैं। [ये भी पढ़ें: फर्टिलिटी बढ़ाने के लिए क्यों जरुरी है फॉलिक एसिड का सेवन]

तनाव:
reasons behind your late period other than pregnancyतनाव के कारण सिरदर्द, पिंपल्स, वजन बढ़ना के अलावा पीरियड्स मिस होने की संभावना भी हो सकती है। जब आप शारीरिक या भावनात्मक रूप से तनाव में होते हैं, तो आपका शरीर तनाव हार्मोन एड्रेनालिन और कोर्टिसोल का उत्पादन करता है, जिसके कारण पीरियड्स मिस होने की संभावनाएं बढ़ जाती है।

वजन: आपका वजन आपके हाइपोथैलेमस को प्रभावित कर सकता है। कम कैलोरी का सेवन करने या वजन कम होने या अंडरवेट होने की संभावनाएं होती हैं जिसके कारण पर्याप्त मात्रा में एस्ट्रोजन रिलीज नहीं होता है जो यूटेरस की लाइनिंग को बनाता है। यह भी एक वजह है जिसके कारण पीरियड्स मिस होने की संभावना बढ़ सकती है। अत्यधिक वजन बढ़ना या कम होने से भी पीरियड्स मिस हो सकता है। [ये भी पढ़ें: भावनात्मक स्वास्थ्य को कैसे प्रभावित करता है कैज्युअल सेक्स]

बहुत एक्सरसाइज करने से:
reasons behind your late period other than pregnancyबहुत ज्यादा एक्सरसाइज करने से एस्ट्रोजेन रिलीज नहीं होता है जिसके कारण पीरियड्स मिस होने की संभावनाएं बढ़ जाती है। जो महिलाएं बैलेट डांसर, जिमनास्ट और एथलिट्स होती हैं उन्हें अमेनोरहिया(कुछ दिनों या महिनों के लिए पीरियड्स मिस होना) होने की संभावनाएं बढ़ जाती है।

प्रीमैच्योर मेनोपॉज: मेनोपॉज होने की सामान्य उम्र 51 वर्ष होती है। प्रीमेनोपॉज एस्ट्रोजेन के निर्माण को कम कर देता है जिसके कारण समय से पहले मेनोपॉज हो जाता है और पीरियड्स भी अनियमित हो जाती है। प्रीमेनोपॉज के दौरान हो रहे हॉर्मोनल बदलाव के कारण भी पीरियड्स मिस होते हैं।

थायरॉयड के कारण: जब थायरॉयड की समस्या होती है जो शरीर के मेटाबॉलिज्म के लिए जिम्मेदार ग्रंथि ठीक से काम नहीं करता है जो असामान्य माहवारी के परिवर्तन के लिए जिम्मेदार होता है। इस वजह से भी पीरियड्स मिस हो सकता है। [ये भी पढ़ें: महिलाओं की फर्टीलिटी की समस्या में कारगर है अश्वगंधा]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "