पोर्न देखने से यौन जीवन हो जाता है तबाह, जानें कैसे

how pornography affects on sexual life

पोर्न जैसी चीजों से आज इंटरनेट भरा पड़ा है। पोर्न इंटरनेट पर सबसे ज्यादा सर्च किये जाने वाले विषयों में एक है। इस तरह के विषयों को सर्च करने में सबसे ज्यादा युवा और किशोरों में होता है, यह एक तरह का एडिक्शन ( एक तरह का मानसिक विकार) तो है ही साथ ही साथ यह व्यक्ति के यौन जीवन पर भी गहरा असर करता है। जरूरत से ज्यादा पोर्न फिल्मों को देखना यौन जीवन के लिए बहुत ज्यादा हानिकारक होता है। [ये भी पढ़ें: नींद पूरी ना होने से प्रभावित हो सकता है आपका यौन जीवन]

दिमाग में एडिक्शन जैसे मानसिक विकार को उत्पन्न करता है: शराब, दवाओं और अन्य तरह के किसी भी नशे से भी ज्यादा पोर्न फिल्मों के देखने से एडिक्शन होता है। यह एडिक्शन शारीरिक और मानसिक दोनों तरह से व्यक्ति को ग्रसित करता है, ऐसे में व्यक्ति को खुद भी ध्यान नहीं होता है कि वह उसे इसका एडिक्शन हो गया है। जिसके कारण व्यक्ति के यौन जीवन पर मानसिक रूप से नकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

जरुरत से ज्यादा बार संबंध बनाने की इच्छा: 
how-pornography-affects-on-sexual-lifeपोर्न फ़िल्में व्यक्ति के दिमाग पर इतना ज्यादा हावी हो जाती हैं कि व्यक्ति के दिमाग में हमेशा इस तरह की बातें घुमती रहती है। जिसके कारण वह ज्यादा से ज्यादा बार संबंध बनाने के लिए अपने साथी को प्रेरित करता है, जिसके अपने ही नुकसान होते हैं। साथी के बिना मर्जी के संबंध बनाने के कारण उसका असर आपके यौन जीवन पर तो पड़ता है साथ ही साथ यह आपके रिश्तों में दिक्कते पैदा कर सकता है। [ये भी पढ़ें: खतना कराने से होते हैं ये लाभ]

संबंध बनाते समय ठीक प्रदर्शन न होने का डर:  बहुत से लोग जो पोर्न फिल्मों को जरूरत से ज्यादा देखते हैं। उन लोगों को इस बात का डर सबसे ज्यादा होता है कि वह उन पोर्न फिल्मों में नजर आने वाले लोगों को तरह यौन क्रियाओं में प्रदर्शन नहीं कर पाएगें। जिसके कारण वह सम्बंध बनाने में भी डरते हैं।

अपने साथी के प्रति नाखुश रहना:   पोर्न फिल्मों में दिखाये जाने वाले लोग जैसे फिल्म में नजर आते है वैसे नहीं होते हैं, लेकिन वह अपने साथी को वैसा देखना चाहते हैं। उनके मन में यह बैठ जाता है कि उनका साथी भी उन्हीं की एक्ट करेगा। लेकिन ऐसा नहीं है फिल्मों में और वास्तविकता में काफी फर्क होता है। इसके कारण व्यक्ति संबंध बनाने में हिचकता है या फिर अपने साथी के प्रति नाखुश रहता है। [ये भी पढ़ें:सेक्सुअल मेडीटेशन करने के कुछ आसान तरीके]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "