यौन इच्छा कम या खत्म होने के पीछे डिप्रेशन हो सकता है प्रमुख कारण

reason behind why you are not having sex anymore

संबंधों में मधुरता बनाए रखने के लिए सेक्स बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यौन संबंधों की कमी आपके रिलेशन को नकारात्मक रूप से प्रभावित कर सकती है। आजकल अनियमित खान पान और गलत लाइफस्टाइल की वजह से लोगों में यौन संबंधों को लेकर रूझान कम हो जाता है। लेकिन इसके अलावा डिप्रेशन भी आपकी सेक्स लाइफ को प्रभावित करता है। [ये भी पढ़ें: पीरियड्स के दौरान अत्यधिक ब्लीडिंग होने के पीछे होती हैं ये वजह]

यौन संबंध ना बनाने के पीछे के कारण: यौन संबंध ना बनाने के पीछे दो महत्वपूर्ण कारण होते हैं। पहला आपका साथी डिप्रेशन में है और दूसरा डिप्रेशन की वजह से सेक्स ड्राइव की अनुपस्थिति। अगर आप डिप्रेशन की समस्या से बाहर आ जाते हैं तो आपकी सेक्स ड्राइव खुद-ब-खुद ठीक हो जाती है। डिप्रेशन की समस्या तब ज्यादा बढ़ जाती है जब आपका दिमाग किसी चीज को हैंडल नहीं कर पाता है। तो हमारा दिमाग इस समय हमारी भावनाओं को सुन्न कर देता है। वह इस तरह की भावनाओं को सुन्न करता है जिस भावना को आप महसूस नहीं करना चाहते हैं। हमारा दिमाग सेक्सुअल इच्छा को क्रिएट करता है। दिमाग में रिलीज होने वाले केमिकल सेक्सुअल आर्गन के कार्य के लिए जरुरी होता है। जब व्यक्ति डिप्रेशन में होता है तो ये केमिकल के रिलीज में बाधा आती है जिसकी वजह से सेक्स करने की इच्छा कम हो जाती है।

डिप्रेशन के दौरान सेक्स लाइफ वापस लाने के उपाय:

1-अपने साथी से बात करें: अगर आपका साथी डिप्रेशन में है तो इस बारे में अपने साथी से बात करें। अपने साथी से बात करने से आप दोनों के बीच रिश्ता गहरा होगा और इंटिमेसी भी बढ़ेगी। इसके साथ ही यह आपको सेक्स ड्राइव कम होने के गिल्ट को कम करता है। रिश्ता गहरा होने से आपकी इच्छा बढ़ती है। अगर आप रिलेशनशिप में नहीं है तो इस बारे में अपने दोस्त से बात करें।

2-एक्सरसाइज करें: इस समस्या को दूर करने के लिए आप वॉकिंग, स्वीमिंग, या बाइक राइडिंग जैसी एक्सरसाइज कर सकते हैं। एक्सरसाइज करने से आपके दिमाग में केमिकल रिलीज होते हैं और डिप्रेशन के लक्षणों को बढ़ाने वाले केमिकल को कम करते हैं। [ये भी पढ़ें: ज्यादा उम्र के पुरुषों में पाई जाती हैं ये यौन समस्याएं]

3-प्रोफेशनल से बात करें: बहुत से लोगों को यौन समस्या से लेकर प्रोफेशनल से बात करने में शर्मिंदगी महसूस होती है। अगर आप डिप्रेशन से ग्रसित हैं तो आप इस तरह की भावनाओं से डील कर रहे होते हैं। इसके लिए आप प्रोफेशनल की मदद ले सकते हैं ताकि इस समस्या का समाधान किया जा सके।

4-दिमाग शांत रखने का अभ्यास करें: डिप्रेशन को दूर करने के लिए उसके कारण का पता होना जरुरी होता है। मेडिटेशन और दिमाग को शांत रखने से भावनात्मक रुप से मजबूत होने के लिए यह मदद करता है। मेडिटेशन और माइंडफुलनेस का अभ्यास करने से डिप्रेशन के लक्षण कम होते हैं। [ये भी पढ़ें: किन कारणों से पुरूषों के यौन जीवन खुशहाल नहीं होते हैं]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "