मैरिड कपल्स के रिश्ते में सबसे कठिन दौर कब आता है

Read in English
what is the hardest phase of a married life

Pic Credit: merafeeds.com

भारत में शादी को सबसे शुभ बंधन माना जाता है। शादी करना और अपने साथी के साथ खुशी से रहना सभी का सपना होता है लेकिन हर किसी रिश्ते में उतार-चढ़ाव आते ही हैं। किसी बात को लेकर दो लोगों के बीच झगड़ा भी होता है और प्यार के पल भी शामिल होते हैं। आप एक-दूसरे की कमजोरी भी होते हैं और ताकत भी बनते हैं। जब आप एक साथ रहते हैं तो ज्यादा जिम्मेदारी होने के कारण आप एक-दूसरे के लिए समय नहीं निकाल पाते हैं और इसी वजह से परेशानियां बढ़ने लगती हैं। शादीशुदा जिंदगी में आपके सामने ऐसा समय भी आता है जिसका सामना कर पाना बहुत कठिन होता है और आपको ऐसा लगता है कि आपका रिश्ता टूट जाएगा। आइए जानते हैं कि मैरिड कपल्स के रिश्ते में सबसे कठिन दौर कब आता है। [ये भी पढ़ें: सिंगल रहते-रहते थक गए हैं तो क्या करें]

तीन साल बाद
अधिकतर लोगों का मानना है कि तीन साल के बाद शादीशुदा कपल्स के बीच से प्यार खो जाता है लेकिन ऐसा नहीं है। इसके विपरीत, इस दौर में लोग एक दूसरे को बेहतर समझने लगते हैं। इस दौर में कपल एक दूसरे की कमजोरी को स्वीकारना शुरु कर देते हैं। इसके अलावा इस समय में शादीशुदा लोग बच्चे के लिए प्लान करने लगते हैं।

पांच साल बाद
पांच साल तक मैरिड कपल्स के बीच काफी अच्छा और एहसास भरा रिश्ता होता है लेकिन इसके बाद काफी समस्याएं शुरु हो जाती है। अगर इस समय तक आप दोनों ने बच्चे के बारे में नहीं सोचा है तो आप दोनों के बीच बहस होने लगती हैं जिसके कारण तकरार भी होती है और झगड़ें भी। इसके बच्चे होते हैं तो भी आप दोनों के पास लड़ने के लिए ढ़ेर सारी समस्याएँ होती हैं। बच्चे से जुड़े काम, जिम्मेदारियां आदि बातों पर बहस होने लगती हैं और यहां से कठिन दौर की शुरुआत होती है। [ये भी पढ़ें: क्या करें कि आपका पार्टनर आपको हर रोज प्यार करें]

शादी के सात साल बाद: कठिन दौर
शादी के सात साल एक साथ गुजारने के बाद अधिकतर लोग अपने रिश्ते में बोर हो जाते हैं और इसी कारण परेशानियां बढ़ने लगती हैं। हर रोज के कामों और अपनी दिनचर्या में लोगों की दिलचस्पी कम हो जाती है। इस दौर में झगड़े बढ़ जाते हैं। अगर आप इस दौर को समझदारी के साथ पार कर लेते हैं तो आपका रिश्ता और मजबूत होते हैं।

कारण:
शादीशुदा लोगों के बीच होने वाली दिनभर की बहस और झगड़ें के पीछे कई कारण होते हैं। आइए जानते हैं इन कारणों के बारे में

  • शादीशुदा जिंदगी में पैसा एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता हैं। अगर आप दोनों की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है तो आप दोनों के बीच समस्याएँ अधिक हो सकती हैं।
  • शादीशुदा लोगों के बीच होने वाली समस्याएं का एक मुख्य कारण ये भी है कि लोग दूसरे की बातें सुनना नहीं चाहते हैं और अपनी भावनाएं शेयर नहीं करते हैं जिससे दूरियां बढ़ जाती हैं। [ये भी पढ़ें: आजाद ख्यालों वाली महिला को डेट करते वक्त क्या बातें ध्यान में रखनी चाहिए]
    उपयोग की शर्तें

    " यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "