सच्चे प्यार और लगाव में क्या फर्क होता है

what is the difference between true love and attachment

प्यार पेचीदा होता है जिसे समझना थोड़ा मुश्किल होता है। कभी-कभी लोग आकर्षण और लगाव को ही सच्चा प्यार समझ लेने की गलती कर बैठते हैं। जब आप किसी रिश्ते में होते हैं तो कुछ संकेतों की मदद से आप सच्चे प्यार को पहचान सकते हैं जिससे दिल टूटने से बचा जा सकता है। जब आप किसी से सच्चा प्यार करते हैं तो वह बाकि चीजों से अलग होता है। उसके लिए आपको किसी रिलेशनशिप में होने की जरुरत महसूस नहीं होती है लेकिन जब यह सिर्फ लगाव होता है तो आप इसे परफेक्ट बनाने की कोशिश करते रहते हैं। जब आपको किसी से लगाव होता है तो आप भी चाहते हैं कि वह इंसान आपके जीवन में रहें। इस तरह की गलतियां करके लोगों का दिल टूट जाता है। तो आइए आपको सच्चे प्यार और लगाव में फर्क बताते हैं जिससे आप खुद को किसी से प्यार करने की गलती से बच सकते हैं। [ये भी पढ़ें: अपने पार्टनर को अपनी वफादारी कैसे साबित करें]

प्यार स्वार्थरहित होता है और लगाव स्वार्थी: जब आप किसी से प्यार करते हैं तो उस इंसान को हमेशा खुश रखने पर ध्यान लगाते हैं। जिससे आपके साथी को आपका प्यार महसूस हो। जब आप किसी से प्यार करने लगते हैं तो उनसे लड़ाई नहीं करना और ब्लैकमेल नहीं करते हैं। मगर जब आपका किसी से लगाव होता है तो उसे खुश रखने के कई तरीके ढूंढने लगते हैं और सोचते हैं कि वह आपकी खुशियों के लिए जिम्मेदार हैं। जब वह आपको खुश नहीं रख पाते हैं तो गुस्सा हो जाते हैं।

प्यार अहंकार को कम करता है और लगाव बढ़ाता है: जब आप किसी से प्यार करते हैं तो रिलेशनशिप को बेहतर बनाने के लिए आपका अहंकार कम होने लगता है। आप खुद को कम स्वार्थी बनाकर अपने साथी के बारे में सोचते हैं। इसके साथ ही आप एक-दूसरे से अपनी कमजोरियों और दिल की बात बताने से डरते नहीं है। इसके विपरीत अगर आपका रिश्ता सिर्फ लगाव की वजह से है तो अहंकार की वजह से चल रहा होता है। अहंकार की वजह से ही कई लोगों का रिश्ता टूट जाता है। अहंकार की वजह से ही लड़ाई होती है और गुस्सा दूर करने के लिए कोई पहल नहीं करता है। [ये भी पढ़ें: दिल टूटने के बाद दोबारा प्यार करने के लिए खुद को कैसे मनाएं]

प्यार हमेशा के लिए और लगाव थोड़े समय के लिए होता है: प्यार हमेशा के लिए होता है चाहे आपका पार्टनर के साथ ब्रेकअप ही क्यों ना हो जाए आप फिर भी उससे प्यार करते रहते हैं।उस इंसान की आपके दिल में हमेशा जगह रहती है और आप चाहते हैं कि वह हमेशा आपके जीवन में रहे। वहीं दूसरी तरफ जब किसी इंसान के साथ लगाव की वजह से रिलेशनशिप में होते हैं तो वह रिश्ता लंबे समय तक नहीं चलता है क्योंकि वह आकर्षण कुछ समय के लिए होता है जो कुछ समय बाद दूर हो जाता है।

प्यार में आजादी होती है जबकि लगाव में बंधन: जब आप किसी से प्यार करते हैं तो उसे खोने का डर नहीं होता है। आप अपने साथी को रोक-टोक नहीं करते हैं। आपको डर नहीं होता है कि आपका प्यार आपसे दूर चला जाएगा लेकिन जब आपका किसी से लगाव होता है तो आप उस व्यक्ति को कंट्रोल करने की सोचते हैं। आपको डर होता है कि वह आपसे दूर चला जाएगा। आपको असुरक्षित महसूस होने लगता है जिसकी वजह से आप हमेशा उनके साथ रहते हैं। [ये भी पढ़ें: जिससे कभी प्यार किया हो उसकी परवाह करना कैसे बंद करें]

    उपयोग की शर्तें

    " यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "