गुस्से में शांत रहकर परिस्थितियों को सुलझाना रिलेशनशिप के लिए है बेहतर

Read in English
use silent treatment in a positive way to solve problems in the relationship

लोग रिलेशनशिप में अक्सर झगड़ा करते हैं और बहुत प्यार करने वाले जोड़े में भी सोच को लेकर असमानता हो सकती है। बहुत सारे तरीके होते हैं जिनसे लोग अपने गुस्से को जाहिर करते हैं। कुछ एक-दूसरे पर भड़क जाते हैं तो कुछ एक-दूसरे से बात करना बंद कर देते हैं। चुप रहकर अपने गुस्से को जाहिर करना भी इसका एक तरीका है। कुछ लोगों का मानना होता है कि चुप रहकर गुस्से को जाहिर करना बचपना होता है लेकिन कई बार यह चुप्पी भी काफी काम आती है। आइए जानते हैं कि कैसे चुप रहकर गुस्से और झगड़े को कम खत्म किया जा सकता हैं।[ये भी पढ़ें: दोस्ती को प्यार में बदलने के लिए अपनाएं कुछ टिप्स]

आपके साथी को समय देता है: चुप रहकर आपको खुद को समझने का और आत्म-निरीक्षण करने का मौका मिलता है। यह आपके साथी को मौका देता है कि वह उन स्थितियों को समझें जिनके कारण लड़ाई हुई है।

यह आपको भी समय देता है:

silent-treatment-positive-way-solve-problem-relationship कई बार ऐसा होता है कि आपका साथी नहीं बल्कि आप गलत होते हैं। जब आपको गुस्सा आता है तो आप अनजाने में अपनी पार्टनर को कुछ भी कह देते हैं। लेकिन जब वो आपसे बात नहीं करते तो आपको अपनी गलती का एहसास होता है।[ये भी पढ़ें: मजाकिया स्वभाव के व्यक्ति हो डेट करने के होते हैं कई फायदे]

आपको शांत करता है: गुस्सा काफी कुछ बिगाड़ सकता है और आपके रिश्ते को पूरी तरह बर्बाद कर सकता है। ऐसे में बजाय गुस्से में तर्क-वितर्क करके आप शांत रहकर अपने गुस्से को कम कर सकते हैं। यह आपकी समस्या को कम करने का एक सही उपाय है।

कितने समय तक चुप रहना बेहतर है: झगड़े के बाद चुप रहकर गुस्से को शांत करना बेहतर होता है। लेकिन यह कुछ समय के लिए ही सही होता है। जब परिस्थितियां सामान्य हो जाए तो अपने साथी से बात करके गलतफहमियों को दूर कर लें। [ये भी पढ़ें: किसी भी रिलेशनशिप में जाने से पहले याद रखें कुछ बातें]

    उपयोग की शर्तें

    " यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "