सपनों का साथी पाना चाहते हैं तो बदलनी होगी अपनी सोच

Things you should change in you to get your dream partner

रिलेशनशिप में दो लोगों के बीच एक प्यार भरा रिश्ता होता है लेकिन एक समय के बाद हर रिश्ते में तनाव, शक, झगड़ें जैसी समस्याएं पैदा हो जाती हैं। ऐसे रिश्ते में रहना और उस रिश्ते को खत्म करना दोनों काम बेहद मुश्किल हो जाते हैं। ऐसे में अधिकतर लोग रिलेशनशिप में रहकर रोजाना का तनाव झेलने की बजाय पुराने रिश्ते को खत्म कर नए साथी की ढ़ूढ़ने लगते हैं। अगर ये चीजे दोबारा दूसरे साथी के साथ भी होने लगें तो आप यह मान बैठते हैं कि आपके सपनों का साथी आपको कभी मिलेगा ही नहीं। हालांकि ऐसा सोचना बिल्कुल गलत है। दरअसल आपकी महत्वकाक्षाएं इतनी ज्यादा होती हैं कि आप अपने साथी की खूबियां देख ही नहीं पाते। अगर आपको अपने सपनों का साथी चाहिए तो आपको इन कुछ चीजों को सोचना छोड़ना चाहिए। [ये भी पढ़ें: इन संकेतों से पता करें कि आपका पार्टनर आपको इस्तेमाल कर रहा हैं]

1 तनाव को रिश्ते पर हावी ना होने दें : नकारात्मक विचार तनाव पैदा करते हैं। आपका दिमाग एक इको-सिस्टम की तरह होता है। नकारात्मकता फैलाने से नकारात्मकता ही आपको वापस मिलती है। साथ ही इससे आपकी कम्यूनिकेट करने की क्षमता भी कम होने लगती है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि तनाव के कारण आप किसी चीज पर ध्यान केंद्रित नहीं कर पाते और आपके अंदर नकारात्मक सोच बढ़ने लगती है।

2.बीती बातों के बारे में ना सोचें: अगर आपके साथ पुराने समय या पहले कुछ बुरा हो चुका है तो यह ना सोचे कि वह चीज दोबारा भी होगी। अगर आप ये चीजें सोचकर डरते रहेगें तो जीवन में कभी आपका रिश्ता अच्छा नहीं बन सकता। [ये भी पढ़ें: ये संकेत बताते हैं कि आप रोमांटिक पार्टनर हैं]

3.अत्यधिक महत्कांक्षी ना बनें:  महत्वकांक्षाएं कभी भी जीवन में संतुष्टि नहीं लाने देती और अगर आप अत्यधिक महत्वकांक्षाएं रखेंगें तो आप हमेशा अपने साथी में कोई ना कमी नजर आती ही रहेगी जिससे आप उसकी अच्छाईंयों को समझ नहीं पाएंगी। इसलिए अपनी महत्वकांक्षाओं को सीमित करें।

4.अपने साथी को बदलने की कोशिश ना करें: अपने साथी के स्थान पर खुद को रखें और सोचे कि अगर वो आपको बदलने की कोशिश करें तो? अगर आप अपने आपको बदलने के लिए राजी नहीं होते तो साथी को बदलने के बारे में सोचना भी गलत हैं। वह जैसा हैं उसे वैसी ही स्वीकार करें।

5.शक करना छोड़ें: रिलेशनशिप में एक-दूसरे पर भरोसा होना बेहद जरुरी है। आप अपने साथी को धोखा देकर दूसरे से भरोसे की उम्मीद नहीं कर सकते हैं। रिलेशनशिप में दोनों को एक-दूसरे पर भरोसा करना चाहिए। रिश्ते की नींव भरोसे पर टिकी होती है जिसे तोड़ने पर रिश्ता भी टूट जाता है। एक बार जब आप एक-दूसरे पर भरोसा करने लगते हैं तो आपके रिश्ते में मुश्किलें आना कम हो जाती हैं। [ये भी पढ़ें: अगर आपकी गर्लफ्रेंड के ज्यादातर दोस्त पुरूष हैं तो जानें इसके फायदे]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "