कारण जो बताते हैं कि आप अपने एक्स से केवल दोस्त बनकर क्यों नहीं रह सकते

Read in English
Reasons You Cannot Be “Just Friends” With Your Ex

अपने एक्स के साथ सिर्फ दोस्त बनकर रहना बहुत मुश्किल होता है क्योंकि कई लोगों के मन में ब्रेकअप होने के बाद भी अपने पार्टनर के लिए भावनाएं खत्म नहीं होती है। ऐसे में ब्रेकअप होने के बाद आपका एक्स आपकी जिंदगी में वापस आना चाहता है तो ये आपके लिए एक परेशानी का कारण बन सकता है क्योंकि आपके मन में जो उनके लिए भावनाएं हैं वो खत्म नहीं होती है और ऐसे में आप उनके सिर्फ दोस्त बनकर नहीं रह सकते हैं। आपके खुद के मन में ये सवाल आता है कि क्या आप अपने एक्स से सिर्फ दोस्त बनकर रह सकते हैं? उनके साथ बिताए हर पल आपको फिर याद आने लगते हैं और ये आपको परेशान कर सकता है। आइए जानते हैं कारण जो बताते हैं कि आप अपने एक्स से केवल दोस्त बनकर क्यों नहीं रह सकते हैं। [ये भी पढ़ें: गलतफहमियां जो सिंगल लोगों को रिलेशनशिप के बारे में होती हैं]

दोस्ती से ज्यादा की उम्मीद करना:
जब आप अपने एक्स के साथ फिर दोस्ती करते हैं तो आपके मन में हमेशा ये ख्याल आता रहता है कि आपका रिश्ता फिर से जुड़ जाए और आप दोनों फिर से एक साथ हो जाएं। दोबारा साथ होने के बाद आप उन्हें दोस्त से ज्यादा मानने के बारे में सोचना नहीं छोड़ पाते हैं।

बार-बार देखने से भावनाएं बढ़ना:
अगर आपके मन में आपके एक्स के लिए भावनाएं होती हैं तो जब वो आपके सामने आती हैं तो आपकी भावनाएं और बढ़ती जाती है। ऐसे में आप उन्हें सिर्फ एक दोस्त वाली नजर से नहीं देख पाते हैं। आपके लिए वो हमेशा वो दोस्त से बढ़कर ही रहते हैं। [ये भी पढ़ें: संकेत जो बताते हैं कि आपको किसी पुरुष की जरुरत नहीं है]

उसे किसी को साथ देखने पर बुरा महसूस करना:
अगर अपने एक्स को किसी और के साथ देखकर आपको जलन की भावना आती है या आपको बुरा महसूस होता है तो ये संकेत है कि आप उनके सिर्फ दोस्त बनकर नहीं रह सकते हैं। आपके मन में कहीं ना कहीं उनके लिए भावनाएं बची हुई हैं।

फिर से प्यार होने का डर:
अगर आप अपने एक्स से फिर बात करना शुरू कर देते हैं और आप उनके दोस्त बनकर रहना चाहते हैं तो आपके मन में ये डर हमेशा बना रहता है कि कहीं फिर आपको उनसे प्यार ना हो जाए और इस डर के ख्याल से आप खुद को उनसे दूर रखने की कोशिश करते हैं।

पहले से बहुत से दोस्त होने की सोच होना:
जब आपका एक्स आपको ये बात बोलता है कि आप उनके दोस्त बन जाइए तो आपके मन में ये ख्याल जरूर आता है कि आपके पास पहले से ही काफी दोस्त हैं। ये ख्याल इसलिए भी आता है क्योंकि कही ना कही आपके मन में उनके लिए भावनाएं बची हुई हैं। [ये भी पढ़ें: संकेत जो बताते हैं कि आपकी गर्लफ्रेंड परफेक्ट है]

 

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "