आखिर शादी करने से क्यों कतराते हैं लोग

Reasons Why Our Generation is scared of getting married

जहां कुछ लोगों के लिए शादी करने के बहुत से कारण होते हैं वहीं बहुत से लोग ऐसे भी हैं जो शादी ही नहीं करना चाहते। ऐसे लोगों का आंकड़ा पिछले कुछ समय में बढ़ गया है। हमारी संस्कृति में शादी को एक पवित्र रिश्ता माना जाता है, जिसके जरिए दो इंसानों का ही नहीं बल्कि दो परिवारों का मेल होता है। आप सोच रहे होंगे कि ऐसी कौन सी वजह हैं जिनके चलते आमतौर पर आजकल की युवा पीढ़ी शादी से कतराने लगे हैं। [ये भी पढ़ें: रिश्तों में प्यार रखने के लिए बच्चों के बिना घूमने जाना है जरुरी]

लोगों को अकेले रहना अच्छा लगता है: हर किसी इंसान के सोचने का तरीका अलग होता है। अधिकतर लोग मानते हैं कि जिंदगी जीने के लिए एक साथी की जरुरत होती है और अकेले जिंदगी को काटना बेहद मुश्किल है। हालांकि अब ये सोच बदल गई है। अब बहुत से लोगों का मानना है कि अकेले रहना उनके लिए बेहतर है और वो अपनी जिंदगी को अकेले रहकर अच्छे से एक्सप्लोर कर सकते हैं।

शादियां खर्चे बढ़ाती है: शादियां में पैसे खर्च करने की स्थिति कंट्रोल से बाहर होती जा रही है। यह एक बड़ा कारण है जिसके चलते लोगों का मानना है कि शादी करना बेकार का फैसला है। जिस तरह की व्यवस्था के साथ हमारे समाज में शादी होती है उस पर लाखों रुपये खर्च हो जाते हैं और कुछ परिवार तो इसके कारण कर्ज में भी डूब जाते हैं। इसलिए नई पीढ़ी के युवा इस तरह के फिजूलखर्ची से खुद को दूर करने के लिए शादियों से दूरी बना रहे हैं। [ये भी पढ़ें:  पुरुषों को भाती हैं महिलाओं की ये खास बातें]

शादी के बाद लोगों में सहजता खत्म हो जाती है: यह एक बड़ा कारण है जिसकी वजह से युवा शादी से कतराने लगे हैं। उनका मानना है कि शादी के बाद लोगों के बीच सहजता और स्वभाविकता खत्म हो जाती है। जिससे उनकी शादीशुदा जिंदगी में बहुत सी मुश्किलें खड़ी हो जाती हैं।

शादी के बाद समझौते करने पड़ते हैं: जिंदगी एक बार ही मिलती है और आप इसे अपनी इच्छा के मुताबिक जीना चाहते हैं लेकिन आप शादी के बाद अपने साथी की इच्छाओं के बारे में अधिक सोचते हैं। आपका साथी क्या चाहता है? उसे किस चीज की जरुरत है? और आपके बच्चे क्या चाहते हैं? इन सब के बीच आपको उन सभी चीजों के साथ समझौता करना होता है जो आपको खुश करती है। शादी के बाद लोगों को कई तरह के समझौते करने होते हैं लेकिन हर इंसान अपनी जिंदगी और इच्छाओं के साथ समझौता नहीं करना चाहता इसलिए वो शादी करने से इंकार करते हैं।

शादी अक्सर असफल हो जाती हैं: जैसा ऊपर कहा गया है कि आज के समय में अधिकतर लोग समझौता नहीं करना चाहते हैं जिसके चलते रिश्तों में दूरियां बढ़ने में देर नहीं लगती और ये दूरियां आखिरकार रिश्तों को एक अंत की ओर ले जाती है। आंकड़े बताते हैं कि पिछले कुछ सालों में भारत में तलाक के मामलों में तेजी से वृद्धि हुई है। यह एक कारण है जिसकी वजह से लोग शादी का फैसला लेने में सहज महसूस नहीं करते। [ये भी पढ़ें: संकेत जो बताते हैं कि आप गलत रिलेशन में फंस गए हैं]

    उपयोग की शर्तें

    " यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "