नए साल पर ब्रेकअप के दर्द को पीछे छोड़कर सीखें कुछ नया

Read in English
Photo Credit: wisdompills.com

आपका दिल टूट चुका है और आप एक नए साथी की तलाश में है। जाहिर है की दिल टूटने के बाद अकेलापन काफी खलता है और आपको अपने साथी की हरपल बेहद याद आती है। लेकिन जीवन में यह आवश्यक नहीं की हर बार आपको प्यार के बदले प्यार मिले। दिल टूटने का अनुभव सिर्फ रिलेशनशिप के खत्म होने या ब्रेकअप होने वालों को ही नहीं होता है। यह बच्चों से लेकर हर उम्र के लोगों को अपनों को खोने या अपनों के साथ छोड़ने के कारण हो सकता है। लेकिन यह दर्द समय के साथ-साथ कम होता जाता है। इस दर्द से बाहर निकलने के लिए सबसे बेहतर समय नया साल होता है। नया साल पुराने दर्द को खत्म करके भविष्य में आगे बढ़ने का समय है। इसलिए समझें कुछ चीजें जो दिल टूटने के बाद आपको आगे बढ़ने के लिए रास्ता दिखाएंगी। [ये भी पढ़ें: गुस्से में शांत रहकर परिस्थितियों को सुलझाना रिलेशनशिप के लिए है बेहतर]

अपनी गलतियों से सीखें: नया साल आ रहा है सीखने, सिखाने और खुद को खुश रखने के लिए। रिलेशनशिप में आपने जो भी गलतियां की है उनसे सबक लें और उन्हें जीवन में फिर कभी ना दोहराने की कोशिश करें।

नए रिश्ते में आने से पहले व्यक्ति को अच्छे से जानें: किसी भी रिश्ते में दोबारा आने की जल्दबादी ना करें। पहले दोस्त बनकर सामने वाले को बेहतर तरीके से समझें। सिर्फ भावनाओं में बहकर कोई फैसला ना लें।

खुद पर भरोसा रखें: ब्रेकअप के कारण अगर आप खुद की काबिलियत पर शक करने लगे हैं तो यह आपके लिए बुरा हो सकता है। खुद पर भरोसा कायम रखें जिससे आगे बढ़ने की प्रेरणा मिलती है।[ये भी पढ़ें: नाखुश लोग किन चीजों में खुशी ढूंढते हैं]

परिस्थितियों को स्वीकार करना सीखें: 

new-year-resolutions-for-the-brokenhearted-

Photo Credit: wisdompills.com

एक साथ कई परिस्थियां ऐसी आ सकती है जो आपके लिए अच्छी ना हों। लेकिन हर समस्या का एक समाधान होता है। इसलिए परिस्थितियों को स्वीकार करना सीखें और समस्या के समाधान पर अपना ध्यान केंद्रित करें। इसलिए किसी भी परिस्थिति में परेशान ना हों।

मन से डर को निकाल दें: इस साल आप डर को अपने जीवन से निकाल दीजिए। खुद को आगे बढ़ाने की कोशिश करें और अगर कुछ भी नया आजमाने से डर रहे हैं तो यह साल है इस चीज को छोड़ने का। अपने मन से असफलता के डर को निकाल कर नया सीखने और अजमाने की कोशिश करें, हो सकता है कि आपको खुद-ब-खुद एक अच्छा साथी मिल जाए।[ये भी पढ़ें: केवल जीने के बजाय जिंदगी को कैसे बेहतर बनाना सीखें]

    उपयोग की शर्तें

    " यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "