रिश्ते में असुरक्षा की भावना को कैसे कम करें

How To Stop Being Over-possessive In Your Relationship

रिश्ते में असुरक्षा की भावना होना साधारण बात है लेकिन अगर ये भावना अधिक बढ़ जाएं तो यह केवल रिश्तों को नुकसान पहुंचाती है। असुरक्षा की भावना मन में पैदा होने के पीछे कई कारण हो सकते हैं जैसे- पार्टनर पर भरोसा नहीं होना, जलन की भावना और आत्म-विश्वास कम होना आदि। रिश्ते में असुरक्षा की भावना जरुरत से ज्यादा होने पर प्यार घुटन में बदल जाता है जिससे आप और आपका पार्टनर रोजाना अनचाहे तनाव झेलते हैं। अगर आप रिश्ते में असुरक्षा की भावना को कम करना चाहते हैं तो कुछ टिप्स की सहायता ले सकते हैं। आइए जानते हैं रिश्ते में असुरक्षा कि भावना को कम करने के लिए आपको किन टिप्स का इस्तेमाल करना चाहिए। [ये भी पढ़ें: क्या करें कि आपका एक्स पार्टनर भी आपको याद करे]

1.एक-दूसरे के दोस्तों से जान-पहचान करें: जलन, असुरक्षा और शक की भावना को कम करने के लिए यह सबसे जरुरी होता है। अपने पार्टनर के सोशल सर्कल से आपकी जान-पहचान होने पर आपके मन में सुरक्षा का भाव आता है। साथ ही यह सवाल बार-बार पैदा नहीं होता कि वे कहां और किसके साथ है।

2. पुरानी बातों को याद ना करें: हो सकता है कि पिछले रिलेशनशिप में आपके साथ धोखा हुआ हो लेकिन आपके लिए यह समझना जरुरी होता है कि हर व्यक्ति एक जैसा नहीं होता है। इसलिए अपने एक्स के साथ जुड़े बुरे अनुभवों से अपने रिलेशनशिप को प्रभावित ना होने दें और सबकुछ भूलकर आगे बढ़े। [ये भी पढ़ें: अपनी शादीशुदा जिंदगी में इंटिमेसी कैसे बनाएं रखें]

3.समस्या की जड़ तक पहुंचने की कोशिश करें: जब भी आपके मन में असुरक्षा की भावना पैदा होती हो तो पहले इस चीज को समझें कि कब आपके साथ ऐसा सबसे ज्यादा होता है। किसी विशेष परिस्थिति या किसी व्यक्ति विशेष की मौजूदगी में अगर आपको सबसे ज्यादा असुरक्षा और जलन की भावना महसूस होती है तो पहले खुद इसे समझें और फिर अपने पार्टनर से इस बारे में बात करें।

4. पार्टनर की जासूसी ना करें: अपने पार्टनर के सोशल मीडिया अकाउंट को चेक करना, छुपकर उनका फोन चेक करना और उनके मैसेज आदि पढ़ने की भूल ना करें। ऐसा करने से असुरक्षा की भावना कम हो या ना हो लेकिन आपके और आपके पार्टनर के बीच झगड़ा जरुर हो सकता है। इसलिए उनकी जासूसी ना करें।

5. पार्टनर पर भरोसा करना सीखें: रिलेशनशिप प्यार और भरोसे पर टिकी होती है। भरोसे की कमी के कारण ही असुरक्षा और जलन की भावना पैदा होती है। इसलिए अपने पार्टनर पर भरोसा करना सीखें। अपने पार्टनर पर भरोसा करने से आपके दिल में असुरक्षा की भावना खुद-ब-खुद कम हो जाती है। [ये भी पढ़ें: अपने रिश्ते को मजेदार कैसे बनाएं]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "