आर्थिक समस्या के वजह से बर्बाद हो रही शादी को कैसे बचाएं

Read in English
how to save your marriage from money issues

Pic Credit: br.de

पैसा ऐसी चीज है जो एक भाई को दूसरे भाई से, दोस्त से दोस्त को और पति-पत्नी को भी अलग कर देता है। किसी भी रिश्ते में पैसा एक ऐसा पहलु है जो आपको स्वार्थी बना सकता है। शादी एक मजबूत बंधन होता है जो आप दोनों के एक-दूसरे पर विश्वास पर टिका होता है लेकिन कभी-कभी यह रिश्ता भी आर्थिक समस्याओं के कारण परेशानी में आ जाता है। आपको समझने की जरुरत है कि आर्थिक समस्याएं तो कुछ समय के लिए होती हैं लेकिन आपका रिश्ता लंबे समय के लिए है इसलिए इसे आर्थिक समस्या के कारण इसे कमजोर ना होने दें। अगर आप आर्थिक समस्याओं से जूझ रहे हैं तो अपने शादी को कैसे बचाएं आइए जानते हैं। [ये भी पढ़ें: संकेत जो बताते हैं कि आप अपने प्यार के चलते खुद को भुला रहे हैं]

बातचीत करके परेशानियों को साझा करें
हम हमेशा से सुनते आएं हैं कि बातचीत करके हर परेशानी का हल निकाला जा सकता है और यह एक हद तक सही भी है। इसलिए बेहतर है कि आप अपने पार्टनर के साथ अपनी आर्थिक समस्याओं को साझा कर लें। विशेषज्ञों का मानना है कि शादी से पहले अपने होने वाले साथी के साथ अपनी आर्थिक स्थिति के बारे में सब कुछ बताना बेहतर होगा। अगर आप शादीशुदा हैं तो भी देर नहीं हुई है अपने पार्टनर से इस बारे में बात करें।

सही उम्मीदें रखें
अगर आप दोनों की आय आपकी सभी जरुरतों को पूरा करने के लिए पूरा नहीं हो पा रही है या मुश्किल से पूरा हो पा रही है तो ऐसे में बचत करने के बारे में सोचना गलत फैसला हो सकता है। इससे बेहतर है कि आप ऐसे लक्ष्य निर्धारित करें जिन्हें आप पूरा कर सकें। आप छोटे से शुरुआत करें और उसके बाद समय के साथ दायरा बढ़ाएं। [ये भी पढ़ें: अपने पार्टनर को सेक्सुअल रुप से कैसे खुश करें]

संतुलन बनाएं रखना जरुरी है
इस बात का भी ध्यान रखें कि आपको अपने खर्चों में संतुलन बनाकर रखना जरुरी है। कुछ लोग बिना सोचे-समझें पैसा खर्च तो कर देते हैं लेकिन उसके बाद जो परेशानियां आती है उन्हें संभालने में असमर्थ होते हैं। ऐसी गलती ना करें। संतुलन बनाएं और समय-समय पर अपने लिए कुछ अच्छा भी करें।

आर्थिक लक्ष्यों को एक साथ तय करें
अगर आप में से कोई एक आपके आर्थिक पहलुओं को लेकर फैसले लेता है तो यह आपके लिए परेशानी बढ़ा सकता है साथी ही आपके रिश्ते में दरार भी ला सकता है। इसलिए इस बात का ध्यान जरुर रखें कि आप दोनों मिलकर ही निश्चित करें कि आपको कहां कितना पैसा खर्च करना है। आप इस रिश्ते में जितना महत्व रखते हैं, आपका पार्टनर भी उतना ही महत्वपूर्ण है।

आपके पड़ोसी क्या करते हैं इस बात को अनदेखा करें
आपको अपनी आय कहां, कैसे और किन चीजों पर व्यय करनी है इस बात का फैसला आप दोनों मिलकर करें। आपके पड़ोसी, दोस्त और रिश्तेदार क्या खरीद रहे हैं और किन चीजों पर खर्चा कर रहे हैं, इस बात को अनदेखा करें। आपकी और उनकी जरुरतें अलग-अलग हैं इसलिए किसी से प्रभावित होकर कोई फैसला ना लें। [ये भी पढ़ें: रिलेशनशिप में हेल्दी आरग्यूमेंट कैसे करें]

    उपयोग की शर्तें

    " यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "