दोस्ती और प्यार में होता है बहुत फर्क, इसे कैसे पहचानें

how to differentiate between love and friendship

Photo Credit: 7-themes.com

दोस्ती को परिभाषित करना थोड़ा मुश्किल है लेकिन प्यार क्या है ये समझना उससे भी कहीं अधिक कठिन।दोस्ती दो लोगों को जोड़ती है और प्यार दो दिलों को। अपने दोस्त को प्यार करना स्वभाविक है लेकिन आप इस बात को कैसे पहचानेंगे कि ये प्यार रोमेंटिक लव नहीं है। कई बार दोस्ती और प्यार के बीच फर्क करना बहुत मुश्किल हो जाता है। अगर आप इस विषय को लेकर चिंतित हैं तो थोड़ा समय लें और अपने रिश्ते को अच्छे से परखें कि आपका किसी इंसान के साथ सम्बंध केवल दोस्ती है या इससे कहीं ज्यादा। कुछ तरीके हैं जिनकी मदद से आप जान सकते हैं कि प्यार और दोस्ती में क्या फर्क है ताकि आपको प्यार के लिए अपनी दोस्ती ना खोनी पड़े। [ये भी पढ़ें: किसी सम्बंध के लिए कभी नहीं छोड़ें अपनी ये खासियत]

अपनी भावनाओं की गहराई को समझें: थोड़ा समय लेकर अपनी भावनाओं को परखें और जानें कि आपके जज़्बात कितने गहरे हैं। बहुत सी चीजें ऐसी है जिन्हें आप अपने दोस्त और प्रेमी दोनों के लिए महसूस कर सकते हैं। लेकिन आप कितनी गहराई और कितनी बार वो चीजें किसी के लिए महसूस कर रहे हैं उससे पता चलता है कि आप किसी से प्यार करते हैं या उसे सिर्फ अपना दोस्त मानते हैं।

अपनी शारीरिक प्रतिक्रियाओं को नोटिस करें: आपकी बॉडी आपको ये जानने में मदद कर सकती है कि आप प्यार में है या नहीं। अगर किसी इंसान के साथ होते वक्त आपकी धड़कनें तेज हो जाती है, आप खुश होते हैं साथ ही आपको घबराहट भी होती है, तो हो सकता है कि आप उससे प्यार करते हैं। हालांकि दोस्त के साथ होते वक्त आप इस तरह के शारीरिक प्रतिक्रियाओं का अनुभव नहीं करते हैं। [ये भी पढ़ें: ये संकेत बताते हैं कि आप किसी को चाहने लगे हैं]

आपकी पसंद और विचार: अगर दोस्ती की बात करें तो अधिकतर बार देखा गया है कि वो लोग जो दोस्त होते हैं उनके बीच काफी चीजें समान होती है। उनकी पसंद और उनके विचार मिलते-जुलते हैं। लेकिन प्यार में होते वक्त ऐसा नहीं होता। अगर आप किसी के साथ प्यार में हैं तो आप दोनों के विचार और पसंद अधिकतर एक-दूसरे से अलग होते हैं और यही चीज है जो आप दोनों को एक-दूसरे की तरफ आकर्षित करती है।

आपके बात करने का तरीका: आपका बात करने का तरीका आपके दोस्त और लव्ड वन के साथ अलग-अलग होता है। दोस्त आपस में बात करते वक्त बहुत सामान्य होते हैं। वो एक दूसरे को कुछ निक नेम्स से बुला सकते हैं जैसे बडी, फ्रेंड आदि अगर आप किसी से बात करते वक्त इस तरह के निक नेम्स इस्तेमाल करते हैं तो आप उसे अपना दोस्त मानते हैं। जबकि जिससे आप प्यार करते हैं उससे बात करने का लहजा आपका अलग होता है।  [ये भी पढ़ें: सोशल मीडिया से क्यों दूर रहना पसंद करते हैं खुशहाल कपल्स]

    उपयोग की शर्तें

    " यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "