अपने रिश्तों को बेहतर बनाने के लिए रेस्पोंसिव पार्टनर कैसे बनें

how to become responsive partner

अपने साथी के लिए अधिक रेस्पोंसिव पार्टनर बन कर आप अपने रिश्ते को अगले स्तर पर ले जा पाते हैं। जब आप अपने पार्टनर की बातों और एक्शन्स को लेकर अधिक रेस्पोंसिव होते हैं तो आपका साथी आपके साथ रिलेशन में अधिक संतुष्ट और खुश रह पाता है। साथ ही आपके रेस्पोंसिव होने से आपका पार्टनर भी खुद को रेस्पोंसिव बनाने की कोशिश करता है। आप खुद को एक रेस्पोंसिव पार्टनर बनाने के लिए आप दोनों के बीच की सम्स्याओं को प्यार से सुलझाने की आदत डालें, अपने साथी की जरुरतों को समझें। आइए जानते हैं कि आप रेस्पोंसिव पार्टनर कैसे बन सकते हैं।  [ये भी पढ़ें: कारण जिनकी वजह से आपका पार्टनर अपने एक्स से रिश्ता नहीं तोड़ता]

अपने साथी को अच्छे से सुनने की आदत डालें: 
how to become responsive partnerजब भी आपका पार्टनर आपसे बात कर रहा हो तो उस दौरान उनकी बातों को पूरे ध्यान से सुनने की कोशिश करें। उनकी बात खत्म होने से पहले उन्हें बीच में टोके नहीं। अपनी बॉडी लैंग्वेज इस तरह की रखें क उन्हें बात करने के लिए और प्रेरणा मिले। जब वह बात कर रहे हो तो अपना चेहरा उनकी तरफ रखें और उन्हें अपनी बात पूरी करने तक सुनें।

जाहिर करें कि आप उनकी बात समझते हैं:
how to become responsive partnerजब तक आप अपनी भावनाओं को जाहिर नहीं करेंगे तब तक वो समझ नहीं पाएंगे कि आप उन्हें समझ पा रहे हैं या नहीं। इसलिए जब भी आप उन्हें सुन रहे हैं तो उनके सामने यह भी ज़ाहिर करें कि आप उनकी बात को समझ रहे हैं। इससे उनके मन में तसल्ली होगी कि आप उनकी बात सुन रहे हैं। [ये भी पढ़ें: बातें जो आपकी गर्लफ्रेंड बताती नहीं हैं लेकिन चाहती हैं कि आप जानें]

किसी भी परेशानी का आपस में समाधान निकालें: अगर आपके बीच कोई तकरार हो रही है या आपका रिश्ता किसी परेशानी से गुज़र रहा है तो झगड़ा करने की बजाय उस समस्या से खुद को बाहर निकालने के लिए समाधान खोजें। समाधान निकालते वक्त केवल अपने बारे में ना सोचें। समाधान निकालते वक्त देखें कि उससे आप दोनों खुश हो। ऐसा फैसला लें जिससे आप दोनों को फायदा हो।

उन्हें जताएं कि आप परवाह करते हैं:
how to become responsive partnerअगर आप अपने पार्टनर की परवाह करते हैं तो उन्हें इस बात का पता होना जरुरी है। आपका रिश्ता कितना संतुष्ट और भावनात्मक रुप से कितना मजबूत होता है यह आपके सभ्य इंसान होने पर निर्भर करता है। आप तब तक एक उत्तरदायी पार्टनर नहीं हो सकते हैं जब तक कि आप अपने पार्टनर के साथ भागीदारी नहीं करते हैं और उनके लिए अपनी परवाह चिंता नहीं दिखाते हैं।  [ये भी पढ़ें: संकेत जो बताते हैं कि वो आपको दोस्त से बढ़कर नहीं देखती]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "