रियल लाइफ और रील लाइफ वाले प्यार में होता है क्या फर्क

difference between reel life and real life romantic relations

Pic Credit: pinkvilla.com

फिल्में संचार का काफी प्रभावी माध्यम हैं जिनके जरिए हम एक उपयोगी संदेश को लोगों तक पहुंचाते हैं। दुनियाभर में करीब 80 प्रतिशत लोग अपनी जिंदगी में फिल्में देखना पसंद करते हैं। फिल्में आपके विचारों और राय को बनाने में काफी महत्वपूर्ण योगदान करती हैं। लोग इनसे काफी प्रभावित होते हैं हालांकि ये इस बात पर निर्भर करता है कि हम किस तरह की फिल्में देखते हैं। खासतौर पर रोमेंटिक फिल्में देखने के बाद लोगों की प्यार और संबंधों को लेकर उम्मीदें बढ़ जाती हैं। लेकिन जब आप असल जिंदगी में इस रिश्ते का अनुभव करते हैं तो पता चलता है कि काफी कुछ अलग है। आइए जानते हैं रील लाइफ और रियल लाइफ वाले प्यार में होता है क्या फर्क। [ये भी पढ़ें: संकेत जो बताते हैं कि वो आपको दोस्त से बढ़कर नहीं देखती]

पहली नज़र में प्यार होना जरुरी नहीं:
difference between reel life and real life romantic relationsहीरो किसी लड़की को सड़क पार करते देखता है और उसे पहील नज़र में ही उससे प्यार हो जाता है, ऐसा केवल फिल्मों में ही होता है। असल जिंदगी में अगर ऐसा होता है तो यह सिर्फ आकर्षण होता है। आप जब तक किसी इंसान को ठीक से नहीं जानते हैं तब तक आपका रिश्ता चल नहीं पाता है।

हर किसी लड़के को सिक्स पैक्स नहीं होते हैं:

difference between reel life and real life romantic relations
Pic Credit: //static.dnaindia.com/twimg.com

केवल फिल्मों में ही ऐसा होता है कि बॉयफ्रेंड मॉडल्स की तरह दिखते हैं जिन्होंने सिक्स पैक्स बनाएं होते हैं और जिनके बाइशेप्स पर लड़कियां फिदा हो जाती है। लेकिन रियल लाइफ में हर एक लड़के ने सिक्स पैक्स बनाएं हो ऐसा नहीं होता है और जरुरी है कि आप बाहरी सुंदरता को महत्व ना देकर मन से प्यार करें। [ये भी पढ़ें: रिलेशनशिप में आपको एक-दूसरे से करनी चाहिए ये उम्मीदें]

हर लड़के में शिष्टचार नहीं होते हैं: फिल्मों में लड़कों के पात्रों को ऐसे दिखाया जाता है कि वो बहुत ही अच्छे, आदर्शवादी और महान हैं। लेकिन ऐसे पुरुष या महिलाएं वास्तविक दुनिया में कम ही दिखते हैं। हो सकता है कि आपका प्रेमी इतना उदार और शिष्टाचारी ना हो, लेकिन फिर भी आपसे सचमुच प्यार करता हो।

सभी शादियां सही तरीके से काम करें ऐसा नहीं है:
difference between reel life and real life romantic relationsअधिकतर रोमेंटिक फिल्मों में किसी भी कपल को आखिर में हैप्पी लिविंग में दिखाया जाता है और उनकी शादी के बाद वो बहुत खुश होते हैं। लेकिन रियल लाइफ में भी ऐसा हो जरुरी नहीं है। हालांकि असल जिंदगी में सारी समस्याएं शादी के बाद ही शुरु होती हैं। [ये भी पढ़ें: इन संकेतों से पता करें कि आपका पार्टनर आपको इस्तेमाल कर रहा हैं]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "