बार-बार दिल टूटने से बचना है, तो बदलें ये आदतें

change these habits to Avoid frequent heart break

अपना दिल टूट जाने के बाद आप बहुत कोशिश करते हैं खुद को संभालने की। ऐसे में अकेला महसूस ना हो इसके लिए आप जल्द से जल्द किसी रिलेशन में आने का प्रयास करते हैं। लेकिन इस जल्दबाजी में आप फिर से साथी चुनने में गलती कर बैठते हैं और फिर से आपका दिल टूटता है। ऐसा बार- बार होने से आपका लोगों और प्यार से भरोसा उठ जाता है। ऐसा आपके साथ ना हो और आपका दिल भी ना टूटे तो इसके लिए आपको अपनी कुछ आदतें बदल लेनी चाहिए। [ये भी पढ़ें: क्या आप जानते हैं कि तनाव आपके संबंधों पर डालता है बुरा प्रभाव]

1. अपनी सोच को बदलें: सबसे पहले अपनी इस सोच को बदलें की आप प्यार के लिए नहीं बने हैं। अपनी इस सोच को बदलें। बार-बार दिल टूटने के बाद भी आपको सच्चा प्यार मिल सकता है।

2. अनजान महिला के प्यार में ना पड़ें: किसी भी महिला को देखते ही उससे आपको प्यार हो जाता है, ऐसा होना अस्वाभाविक नहीं है लेकिन अगर ऐसा हुआ है तो रिश्ते को लेकर गंभीर होने से पहले उस महिला को अच्छे से जान लें, ताकि फिर से आपके साथ धोखा ना हो।[ ये भी पढ़ें: ऑनलाइन मैच मेकिंग के जरिए रिलेशन बनाते वक्त ना करें ये काम]

3. सपने सजाने की जल्दी ना करें: किसी भी महिला को देखकर अगर आप उसकी तरफ आकर्षित हो जाते हैं तो उससे शादी करने, हनीमून मनाने और अपने बच्चों के नाम सोचने की जल्दी ना करें। आप जहां सपने सजा रहे होते हैं वहीं सामने वाली महिला आपका नाम तक नहीं जानती। इसलिए किसी देखते ही उसके सपने देखना बंद कर दें और जीवन को प्रेक्टिकल होकर देखें।

4. पैसे और प्यार की तुलना ना करें: अपनी इस सोच को बदल दें कि आपके पास पैसे ज्यादा होने से कोई भी आपकी ओर खिंच जाएगा या फिर आपके पास पैसे नहीं है तो कोई आपसे प्यार नहीं करेगा। सच्चा प्यार करने वालों को आपके पैसे में कोई दिलचस्पी नहीं होती है। वो सिर्फ आपसे प्यार पाने की उम्मीद करते हैं।[ये भी पढ़ें: दो लोगों के बीच अत्यधिक शारीरिक आकर्षण है सेक्सुअल टेंशन का संकेत]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "