प्रयोग से पहले इमरजेंसी कॉन्ट्रासेप्टिव पिल्स के बारें में जानें

what are the side effects of emergency contraceptive pills

इमरजेंसी कॉन्ट्रासेप्टिव पिल्स आजकल गर्भधारण को रोकने के लिए काफी प्रचलित है। जो बहुत ही सावधानी से गर्भधारण को नियंत्रित करता है। इस तरह के पिल्स को तब प्रयोग में लाया जाता है, जब गलती से गर्भधारण हो या फिर बिना सुरक्षा के यौन सम्बन्ध स्थापित हो जाए। गर्भ के ठहर जाने के बाद ये पिल्स गर्भनिरोध में सक्षम नहीं होते हैं। इनका प्रयोग यौन संबंध बनाने के कुछ ही घंटों के बाद किया जाता है, इस तरह के पिल्स का एकमात्र काम है, अंडोत्सर्जन की प्रक्रिया से पहले गर्भाशय में शुक्राणुओं को जाने से रोकना ताकि गर्भधारण ना हो। [ये भी पढ़ें: गर्भरोधक के रुप में क्यों सबसे बेहतर है कंडोम]

सही पिल्स का चुनाव करें:
know about the side effects of emergency contraceptive pills
बाजार में इस तरह के पिल्स की बहुत सी किस्में है, जिनमें से सही का चुनाव करना बहुत ही आवश्यक है। इसके प्रयोग के लिए अलग-अलग निर्देश होते हैं, उसमें सबसे अहम होता है उम्र। हर उम्र के लिए अलग किस्म का पिल्स होतें हैं। इसमें एक पिल्स और दो पिल्स होतें हैं, दोनों ही एक सामान असर करते हैं, एक पिल्स वाले कॉन्ट्रासेप्टिव पिल्स का प्रयोग किसी भी उम्र के लोग बिना किसी डॉक्टर की सलाह के कर सकते हैं जबकि दो पिल्स वाले कॉन्ट्रासेप्टिव पिल्स का प्रयोग केवल किशोरावस्था में प्रयोग किया जा सकता है साथ ही इसके प्रयोग से पहले आपको डॉक्टर की सलाह लेना जरूरी है।

निर्देशों को ठीक से पढ़ें:
side effects of contraceptive pills
इस तरह के पिल्स के प्रयोग से पहले दिशा-निर्देशों को ठीक से पढ़े उसके बाद ही इसका प्रयोग करें। बहुत से ब्रांड आज बाजार में आसानी से मिल जाते हैं, उनमे से सही का चुनाव करें और उसके बाद उसके निर्देशों को पढ़े जिनमें कई जरुरी बातें हुआ करती है। [ये भी पढ़ें: गर्भरोधक के रुप में क्यों सबसे बेहतर है कंडोम]

  • अगर आप एक पिल वाले कॉन्ट्रासेप्टिव पिल्स का प्रयोग कर रहें हैं, तो उसका प्रयोग प्रजनन प्रक्रिया के 72 घंटों के भीतर करना चाहिए।
  • यदि आप दो पिल्स वाले कॉण्ट्रासेप्टिव का प्रयोग कर रहें हैं, तो एक पिल को जितना जल्दी सम्भव हो ले लेना चाहिए और दूसरे पिल में जल्दी न करें इसको 12 घटों के बाद लें। सबसे जरूरी बात कि इन दोनों को 72 घंटों के भीतर लिया जाना चाहिए।
  • इसको पानी के साथ लें जैसे अन्य तरह की दवाइयों को लेते हैं।

इमरजेंसी कॉन्ट्रासेप्टिव पिल्स के साइड इफेक्ट:

बांझपन:
इमरजेंसी कॉन्ट्रासेप्टिव पिल्स के प्रयोग से होने वाले साइड इफेक्ट में यह सबसे ज्यादा गंभीर समस्या है। जरूरत से ज्यादा इस तरह के पिल्स के सेवन के कारण उम्रभर का बांझपन होने का खतरा बना रहता है।

मिचली या उल्टियां आना:
इस तरह के पिल्स जब भी आप लें तो इस बात का ध्यान जरुर रखें कि इसके खाने के कुछ समय बाद आपको उल्टी आ सकती है। यह इन दवाइयों का आम प्रकार का साइड इफेक्ट है जो इसमें पाए जाने वाले हार्मोन्स की वजह से होता है।

रुक-रुक मासिक चक्र आना:
अन्य तरह की गर्भनिरोधक दवाइयों की ही तरह इसको खाने के बाद महिलाओं में रुक-रुक मासिक चक्र बंद हो जातें हैं या फिर वो रुक-रुक कर आते हैं, जो कि एक गंभीर समस्या है अगर आपके साथ भी ऐसा ही कुछ हो तो अपने डॉक्टर से सलाह जरुर करें।

खून के थक्कों का आना:
इन पिल्स के प्रयोगों के बाद यह भी पाया गया है महिलाओं के मासिक चक्र के दौरान निकलने वाले खून में खून के थक्के भी आने लगता हैं। इस तरह के पिल्स से होने वाले साइड इफेक्ट की एक गंभीर समस्या है। [ये भी पढ़ें: गर्भनिरोधक दवाइयां कैसे प्रभावित करती हैं पीरियड्स को]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "