पुल-आउट मेथड से जुड़ी कुछ जानकारी जिनके बारे में पता होना जरूरी है

Read in English
things you should know about pull-out method

अनचाही प्रेग्नेंसी से बचने के लिए कई लोग गर्भनिरोध चीजों का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन इसके लिए कौन सा तरीका ठीक है इसका निर्णय लेने में लोग अक्सर परेशान हो जाते हैं। महिलाएं गर्भनिरोधक गोलियों का सेवन करने से बचती हैं क्योंकि इसके साइड इफेक्ट भी होते हैं। इस परिस्थिति में अनचाही प्रेग्नेंसी से बचने के लिए पुल-आउट मेथड का इस्तेमाल किया जा सकता है। यह मेथड ज्यादा प्रभावी नहीं होता है क्योंकि इससे प्रेग्नेंट होने की संभावना होती है। तो आइए आपको गर्भनिरोध के पुल-आउट तरीकों के बारें में बताते हैं और उससे जुड़ी जानकारियों के बारे में बताते हैं। [ये भी पढ़ें: क्या कॉन्डम की भी एक्सपायरी डेट होती है]

क्या है पुल आउट मेथड: पुलआउट मेथड इसके नाम की तरह होता है। इस तरीके में जैसे ही पुरूष को ये आभास होता है कि वो इजैकुलेट होने वाले हैं तो वो अपने जेनाइटल को बाहर निकाल लेते हैं। इससे स्पर्म एग तक पहुंचने में असमर्थ हो जाता है और प्रेग्नेंट होने की संभावना कम हो जाती है।

पुलआउट मेथड से जुड़ी बातें:

हमेशा काम नहीं करता है: पुल-आउट मेथड का सबसे बड़ा नुकसान यह होता है कि यह हमेशा काम करे ऐसा जरुरी नहीं होता है। ऐसा तब होता है जब पुरुष सही समय पर पुल आउट नहीं कर पाते हैं। इससे गर्भधारण करने का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए गर्भनिरोध के इस तरीके का इस्तेमाल करने से पहले ज्यादा ध्यान रखने की जरुरत होती है। [ये भी पढ़ें: फीमेल कॉन्डम क्या है और इसका इस्तेमाल कैसे किया जाता है]

यौन संचारित रोग से सुरक्षा नहीं करता है: इस बात को ध्यान में रखना चाहिए कि पुलआउट मेथड सिर्फ गर्भधारण को रोकने में मदद करता है। यह आपको यौन संचारित रोगों से नहीं बचाता है। तो आपको असुरक्षित तरीके से यौन संबंध बनाने से पहले सोचना चाहिए।

लंबे समय तक काम नहीं आता है: अगर आप एक सही गर्भनिरोध मेथड के बारे में सोच रहे हैं तो पुलआउट मेथड एक सही उपाय नहीं है। इस तरीके की वजह से यौन संबंधित रोग और अनचाहे गर्भधारण धारण कर सकते है इसलिए इस मेथड का चुनाव करने से पहले जरुर सोच लें।

इसमें पैसे खर्च नहीं होते हैं: इस मेथड का इस्तेमाल करने में पैसे खर्च नहीं होते हैं इसलिए ज्यादातर लोग पुलआउट मेथड का इस्तेमाल करना पंसद करते हैं। लेकिन इसके इस्तेमाल से पहले खतरों के बारे में जानना भी जरुरी होता है। [ये भी पढ़ें: गर्भनिरोध गोलियों से होने वाले दुष्प्रभाव]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "