गर्भनिरोध गोलियों से होने वाले दुष्प्रभाव

Surprising Side Effects of Birth Control Pills

Photo Credit: sciencealert.com

गर्भनिरोध गोलियों की वजह से वजन बढ़ना, मिचली, ब्रेस्ट टेंडरनेस और मेंस्ट्रुअल साइकल का अनियमित हो जाना जैसी समस्याएं हो जाती हैं। इसके अलावा गर्भनिरोध गोलियों के सेवन से मूड में बदलाव आना, ऊर्जा कम हो जाना, पेट से जुड़ी समस्या या फिर यौन इच्छा में कमी हो जाना जैसी समस्या भी हो सकती है। हालांकि गर्भनिरोध गोलियां अनचाहे प्रेग्नेंसी से बचाता है लेकिन शरीर पर इसके कई दुष्प्रभाव भी होते हैं। तो गर्भनिरोध गोलियां हर किसी के लिए प्रभावी नहीं होते हैं औऱ कई महिलाओं को इसकी वजह से स्वास्थ्य समस्याएं भी हो जाती हैं। तो ऐसे में आपको इससे दुष्प्रभाव के बारे में पता होना जरूरी होता है ताकि आप स्वस्थ रह सकें। आइए गर्भनिरोध गोलियों से होने वाले दुष्प्रभाव के बारे में जानते हैं। [ये भी पढ़ें: क्या कॉन्डम की भी एक्सपायरी डेट होती है]

यौन इच्छा में कमी हो जाना:
गर्भनिरोध गोलियों के सेवन से टेस्टोस्टेरोन का स्तर कम होता है जिसकी वजह से वेजाइनल ड्राइनेस और यौन इच्छा में कमी आ जाने जैसी समस्या हो सकती है। गर्भनिरोध गोलियों में एस्ट्रोजेन और प्रोजेस्टेरोन का सिंथेटिक वर्जन होता है जो टेस्टोस्टेरोन के स्तर को कम करता है।

यीस्ट इंफेक्शन का खतरा बढ़ाता है:
गर्भनिरोध गोलियों का सेवन करने की वजह से एस्ट्रोजेन का स्तर कम हो जाता है जो यीस्ट इंफेक्शन के खतरे को बढ़ाता है। इसके अलावा ये इम्यून सिस्टम को भी कमजोर कर देता है जिसकी वजह से यीस्ट इंफेक्शन हो जाता है। [ये भी पढ़ें: क्या है बर्थ कंट्रोल शॉट्स और इसके इस्तेमाल के फायदे]

शुष्क आंखें हो जाना:
जो लोग गर्भनिरोध गोलियों का सेवन करते हैं उन्हें शुष्क आंखों की समस्या का सामना करना पड़ता है। इसके अलावा आंखों से पानी आना या फिर आंखें लाल हो जाना जैसी समस्या भी हो जाती है। कई बार तो आंखों की रोशनी भी कम हो जाती है।

डिप्रेशन की समस्या:
गर्भनिरोध गोलियां और डिप्रेशन का एक बड़ा संबंध है। एस्ट्रोजेन और प्रोजेस्टेरोन नामक हार्मोन की वजह से महिलाओं के मूड में बदलाव आता है और कई बार ये बदलाव डिप्रेशन का रूप ले लेता है।

माइग्रेन की समस्या बढ़ाता है:
एस्ट्रोजन का स्तर सिरदर्द को ट्रिगर कर सकता है तो इसलिए गर्भनिरोध गोलियों के सेवन से जितना हो सकता है बचें ताकि आप इस समस्या से ग्रसित ना हों। [ये भी पढ़ें: खाद्य पदार्थ जिनमें गर्भनिरोधक गुण पाएं जाते हैं]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "